दोस्त की पत्नी की खेत में बुर चुदाई की और हवस को शांत किया

दोस्त की पत्नी की खेत में बुर चुदाई की और हवस को शांत किया

Wildfantasystory.com के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार उम्मीद करता हूं। आप सब लोग ठीक होंगे।

आज की कहानी में पढ़ें : दोस्त की पत्नी की खेत में बुर चुदाई की और हवस को शांत किया।

मेरा नाम कबीर खान है. मैं पंजाब से हूं. उम्र 22 साल है, और मैं किसान हूं। ये मेरी पहली कहानी है. उम्मीद करता हूं आप सबको पसंद आएगी।

ये कहानी 6 महीने पहले की है. दोस्तों मैं एक छोटे गाँव से हूँ। मेरा एक दोस्त अमित है. उसकी 2 साल पहले शादी हुई थी। उसकी पत्नी का नाम प्रिया है, जो बहुत खूबसूरत जिस्म की मालकिन है। प्रिया की उम्र 25 साल है. फिगर 36-32-38 है. उसकी गांड बाहर को निकली हुई है, और स्तन बड़े हैं। मैं जब भी उसको देखता हूं, तो मेरा 7 इंच का लंड पूरा खड़ा हो जाता है।

मेरा दोस्त शहर से बाहर नौकरी करता है। पीछे उसकी पत्नी सास-सुसर के साथ रहती है। जब भी प्रिया भाभी को कोई काम होता है, तो वो मुझे बुला लेती है। फिर कुछ समय बाद हमारे व्हाट्सएप पर थोड़ी-थोड़ी बात होने लगी।

हम कुछ ही समय में अच्छे दोस्त बन गए। प्रिया भाभी अभी मेरे साथ बहुत ज्यादा ओपन माइंडेड हो गई थी। फिर एक दिन प्रिया भाभी की कॉल आई। मैं खेतों में काम कर रहा था.

भाभी बोली: काहा हो? आज हमारी याद नहीं आयी क्या? मैसेज हाय नहीं क्या कोई?

मैं: कुछ नहीं यार, बस खेतों में काम कर रहा हूँ। आ जाओ आप भी, यहाँ कोई नहीं है।

भाभी: अच्छा जी, मैं क्यों आऊ?

मैं: आप मेरी प्यारी भाभी हो ना? आ जाओ अपने प्रेमी के पास. क्यों डर लगता है?

भाभी: हट बदमाश! कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या तुम्हारी? अपनी गर्लफ्रेंड को बुलाओ।

मैं: भाभी आपके होते हुए मुझे गर्लफ्रेंड की क्या ज़रूरत है? आप हो ना मेरे लिए.

भाभी: अच्छा, मैं तुम्हें इतनी पसंद हूँ क्या?

मैं: हां, आप बहुत खूबसूरत हो. पता नहीं कहा से आप मेरे दोस्त को मिल गये।

भाभी: अच्छा लेकिन तेरे दोस्त को मेरी कदर नहीं. देखो मुझे यहाँ छोड़ कर खुद दूसरे शहर में रहता है।

मैं: भाभी जान, टेंशन क्यों लेती हो? मैं हूं ना.

भाभी: तुम क्या कर लोगी?

मैं: आप एक मौका तो दो, जान भी कुर्बान कर देंगे आप पर मेरी रानी।

भाभी हसने लगी.

भाभी: अच्छा जी सुनो, मैं कुछ देर तक आती हूं तुम्हारे पास। कहीं भी नहीं जाना. आज तुम्हारी ये शिक़ायत भी दूर कर देती है।

मैं बहुत ज्यादा खुश हो गया। ये सुन कर मेरा दिल कर रहा था, कि मैं डांस करने लग जाउ। फिर भाभी ने फोन रख दिया। फिर दोस्तों भाभी कुछ समय बाद हमारे खेतों में आ गई। उफ्फ क्या पटाखा लग रही थी. पूरा एटम बम लग रही थी. वो लाल साड़ी पहन कर आई थी।

फिर मैं उसके पास गया। दोपहर का समय था. बहुत गर्मी थी. कोई भी आस-पास नहीं था. मैं उसके पास जाता ही बोला-

मैं: आ गई हो भाभी जान, बोलो कैसे खुश होंगी आप?

भाभी आंख मार के बोली: आपको पता नहीं कैसे एक भाभी को खुश किया जाता है?

हमारे खेतों में एक कमरा बना है। मैं भाभी को वहां ले गया, और दरवाजा बंद कर दिया। फिर मैंने प्रिया को ज़ोर से गले लगाया। दोस्तों उफ्फ्फ, उसके मोटे-मोटे स्तन मेरे जिस्म से दब रहे थे, और मेरा पूरा लंड उसकी टांगों में घुस रहा था। फिर मैंने उसको किस करना शुरू कर दिया। हम दोनों पागलों की तरह किस कर रहे थे।

फिर प्रिया अपना एक हाथ मेरे सलवार में डाली, और मेरा लंड हिलाने लगी। उफ्फ, बहुत मजा आ रहा था. मैं उसकी मोटी गांड दबा रहा था। फिर 10 मिनट बाद वो नीचे बैठ गई, और मेरा मोटा लम्बा लंड बाहर निकल गया। मेरा लंड देख कर उसकी आँखों में चमक आ गयी।

भाभी: उफ्फ्फ, ऐसा मोटा और लम्बा लंड काफी टाइम के बाद मेरे नसीब में हुआ।

ये बोलते हुए उसने मेरा लंड मुँह में भर लिया।

मैं: उफ्फ्फ आह्ह प्रिया, रंडी, कुतिया, मादरचोद, तुम तो बहुत अच्छा लंड चूसती हो। लगता है तुम पहले भी मर्दों का बेस्ट गरम कर चुकी हो रंडी।

मैंने प्रिया रंडी के बाल पकड़ पूरा लंड डाल दिया मुँह में।

प्रिया भाभी: उम्म्म्म आअहह.

उसने लंड बाहर निकाला और बोली: आराम से, उफ़्फ़ मर जाऊँगी। शादी के पहले मेरे 4 बीएफ थे, जो मुझे वीक में 3 या 4 बार लाज़मी चोदते थे।

फिर से वो मेरे लंड के टोपे को अपनी जुबान से चाटने लगी।

मैं: मेरा लंड कैसा लगा आपको?

भाभी : बहुत मस्त.

फिर मैंने प्रिया के सारे कपड़े उतार दिये। मैं खुद भी पूरा नंगा हो गया। फिर भाभी को नीचे लिता दिया, और उसकी टांगे खोल कर चूत को मुँह में भर लिया। भाभी तड़पने लगी. वो चुत को हिल-हिल कर मेरे मुँह पर रगड़ने लगी

10-15 चुत चाटने के बाद मैंने भाभी को अपने गोद में उठाया। उसकी मोटी गांड पर हाथ रख कर अपने लंड के ऊपर लेकर आया। फिर उसने मेरा लंड अपनी चूत में सेट किया। मैं आराम-आराम से उसको अपने लंड पर बिठाने लगा।

जब मेरा लंड पूरा उसकी चूत में गया, तो उसने मुझे कस कर पकड़ लिया, और अपनी गांड हिलाने लगी। फिर मैंने स्पीड पकड़ ली, और उसकी चुदाई शुरू कर दी। वो बहुत उछल रही थी. मैंने उसको अपने गोद में उठाया हुआ था

भाभी: उफ्फ मर गई, बहुत मजा आ रहा है. मैंने कभी भी इस पोजीशन में सेक्स नहीं किया। उफ्फ्फ तुम बहुत ताकतवर हो बेबी आह्ह.

फ़िर मैं उसको दीवार के साथ लगा कर पूरे ज़ोर से चोदने लगा। उसकी चूत से गैप-गैप की आवाज आ रही थी। मैंने एक हाथ से उसका मुंह बंद किया ताकि कोई उसकी आवाज सुन ना ले। फिर 20 मिनट बाद उसकी हालत खराब हो गई। फिर नैने उसको जलाया, और टांगे उठा कर लंड उसकी चूत में डाल दिया।

मैं उसकी चूत को 10 मिनट तक चोदता रहा। क्या बीच भाभी का 3 बार पानी निकल गया। दोस्तों अब मुझे भाभी की गांड मारने का सपना भी पूरा करना था। फिर मैंने अपना लंड बाहर निकाला. पूरे जोर से भाभी को उल्टा दिया, और उसकी गांड ऊपर की।

प्रिया: ये क्या कर रहे हो? उफ़ आराम से.

मैं प्रिया की गांड खोल कर उसका छेद देखने लगा। फिर मैंने अपनी एक उंगली हमसे डाली। बहुत टाइट गांड थी.

प्रिया: ये क्या कर रहे हो? वाह पर नहीं. मैंने कभी गांड में नहीं लिया. कृपया नहीं.

फिर मैंने गांड पर ज़ोर से थप्पड़ मारा और बोला: चुप रंडी साली।

मैंने फिर अपने लंड पर थूक लगायी, और गांड पर सेट किया, तो प्रिया हिलने लगी। वो मुझे गांड में डालने नहीं दे रही थी।

प्रिया: तूने मेरी चूत का बहुत बुरा हाल कर दिया। प्लीज़ अब चोद दो, जाने दो मुझे।

मैंने उसको बालों से पकड़ा. फिर पूरा लंड उसके मुँह में थूस दिया उफ्फ्फ।

प्रिया: उफफफफफफफ्फ़.

मैं पूरा लंड उसके मुँह में डाल रहा था, और वो तड़पने लगी। अब उसमें इतनी ताकत नहीं थी कि मुझे रोक सके। मैंने फिर कुछ देर में उसको घोड़ी बनाया, और लंड गांड पर सेट किया।

प्रिया: नहीं प्लीज़ आह्ह.

फिर मैंने पहले लंड का टोपा गांड में घुसाया, और वो चिल्लाने लगी। जल्दी ही मैंने पूरा लंड उसकी गांड में डाल दिया। उसकी जान निकल रही थी.

प्रिया : आह्ह्ह प्लीज बाहर निकालो अह्ह्ह्ह.

मैं: बस थोड़ा इंतज़ार कर लो.

प्रिया: मर जाऊंगी मैं.

3 मिनट बाद प्रिया को मजा आने लगा। फिर वो खुद लंड अंदर-बाहर करने लग गई। आअहह उफफफ बहुत मजा आ रहा है, ऐसी आवाज निकल रही थी। फ़िर मैं भी उसकी गांड चोदने लग गया।

प्रिया: उफफफ्फ़ आअहह कबीर, आज तक मुझे किसी भी लंड पर इतना मज़ा नहीं आया।

फिर मैंने उसकी गांड 30 मिनट तक मारी, और फिर उसके मुँह में माल भर दिया।

अगर आपको कहानी अच्छी लगी हो तो कमेंट करके बताएं

ऐसी ही और कहानियां पढ़ने के लिए Bhabhi Sex Story को सब्सक्राइब करें।

Lucknow Call Girls

This will close in 0 seconds