मेरे बॉयफ्रेंड का लंड अनजान लड़की की चूत में | Threesome sex story

मेरे बॉयफ्रेंड का लंड अनजान लड़की की चूत में | Threesome sex story

Threesome sex का मजा पार्क में ले रही थी| मैं अपने बॉयफ्रेंड के साथ.

एक लड़की हमारी वीडियो बनाने लगी. मैंने उसका हाथ पकड़ कर खींच लिया और उसकी चूत चुदवा दी.

दोस्तो, मैं देवांगना !

मेरी पिछली कहानी

सहेली के पति का लंड लिया

आपने पढ़ी, बहुत से लोगों ने मुझे ऑनलाइन देखा, मजा किया. (Threesome sex story)

अब मैं अपनी एक और रोमांचक सेक्स से भरी Threesome sex story आपके लिए लेकर आ गई हूं।

क्या आपको नहीं लगता कि कपल के बीच में चुदाई के दौरान किसी तीसरे की एंट्री हो जाए तो कितना मजेदार हो?
जिनको नहीं लगता है कि ऐसा करने में मजा आता होगा, उनकी सोच इस Threesome sex story को पढ़कर बदल सकती है!

उन दिनों मैं ऑफिस के काम इतनी उलझी रहती थी कि मेरे आशिक को मुझे याद दिलाना पड़ता था कि मेरे पास एक चूत भी है जिसको लंड की जरूरत होती है।

एक शाम की बात है कि वो मुझे लेने के लिए ऑफिस ही आ गया।

दरअसल फोन पर हम दोनों की लड़ाई हो गई थी इसलिए वो मुझे मनाने आया था कि कहीं मैं उसको चूत देने से मना न कर दूं।

जब मैं बिल्डिंग से बाहर जा रही थी हम दोनों के बीच हुए रोमांचक सेक्स के पलों को याद कर चूत में कुलमुलाहट महसूस कर रही थी।

जब मैंने अपने बॉयफ्रेंड को ऑफिस के एरिया में खड़े देखा तो आप सोच सकते हैं कि मेरी चूत की क्या हालत हुई होगी।
मैं उसकी तरफ जाने लगी जैसे कि उसका जोश मुझे अपनी ओर खींच रहा हो। (Threesome sex story)

फोन पर मैंने ही उससे ठीक से बात नहीं की थी, फिर भी उसके सामने जाकर मैंने अपनी तरफ से उससे नजरें नहीं मिलाईं।
तिरछी नजरों से ही मैंने बिना उसको देखे ये जान लिया था कि वो मेरे चेहरे को देखकर मुस्करा रहा था।

मुझे उस पर प्यार आ जाता था क्योंकि वो जानता था कि मुझे मनाने के लिए उसे क्या करना है।

उसने मुझे अपनी तरफ खींचा और मुझसे जोशीले अंदाज में लिपटने लगा।
ऑफिस की सारी टेंशन एकदम से रफू चक्कर हो गई।

उसकी छाती मेरी चूचियों को दबा रही थी जिससे कि वो मेरी चूचियों का उभार अपनी छाती पर महसूस कर रहा था।

धीरे धीरे उसके हाथ मेरी कमर से होते हुए मेरी गांड पर पहुंच गए।
मैं उसके इस प्यार भरे अंदाज में ऐसे खोती चली गई कि मेरी बांहें उसके लिए और ज्यादा खुल गईं।

कुछ देर हमने एक दूसरे की बांहों में स्वर्ग का मजा लिया, उसके बाद हम उसकी बाइक पर बैठकर निकल लिए।

मुझे उससे बात नहीं करनी थी क्योंकि मैं जानती थी कि वो मुझे कहां लेकर जा रहा था। (Threesome sex story)
ये हमारे रोज के मिलने की जगह थी, जो कि दिल्ली का सिटी पार्क था।

मैं वहीं पार्किंग के पास खड़ी होकर अपने बॉयफ्रेंड का इंतजार करने लगी।

आते जाते लोग मुझे देख रहे थे कि मैं एक शादीशुदा लड़की हूं और फिर भी अपने आशिक के साथ वहां आई हुई हूं।
वहां पर ज्यादातर कॉलेज जाने वाले लड़के लड़कियां या फिर ऑफिस जाने वाले जवान लड़के लड़कियां आते थे जो अपनी जवानी का पूरा मजा उठाते थे।
इसलिए मेरे वहां होने से किसी को कोई दिक्कत नहीं लग रही थी।

उसके आने के बाद हम दोनों एक दूसरे के हाथों में हाथ डाले चलने लगे।

हम अपनी पसंदीदा जगह गए चहां पर हम दोनों को कोई भी डिस्टर्ब नहीं कर सकता था; हम झाड़ियों के पीछे गए।

यहां पर हमारे पास मस्ती करने के लिए बहुत अच्छी और सेफ जगह थी।
उसने पीछे छिपकर अपने कपड़े निकाल लिए और नीचे बैठकर मेरी तरफ देखने लगा। (Threesome sex story)

मैं भी उसने मन की बात जान गई और अपने कपड़े निकालने लगी।

जैसे जैसे मेरा बदन नंगा होने लगा, मेरे बॉयफ्रेंड की आंखों में चमक आने लगी।
मैं ब्रा और पैंटी में खड़ी हो गई।
वो मेरे गदराए, सुडौल बदन को देख रहा था।

उसे तड़पाने के लिए मैं उसके सामने ही बैठ गई।

उसके चेहरे पर तैर रहे वासना के भावों को देख मैं जान रही थी कि उसे मेरे सु़डौल जिस्म में अभी भी कितना आकर्षण है।

बड़ी अदा से इठलाते हुए मैं उठी और अपनी गांड से उसके चेहरे को सहलाने लगी।
चेहरे से होते हुए मैं नीचे तक उसके बदन पर गांड को रगड़ते हुए उसकी गोद में बैठ गई।

उसने मुझे अपनी बांहों के आगोश में ले लिया और मेरी गर्दन व पीठ पर चूमने लगा।

मैंने उसकी जांघों पर हाथ रखा और सहलाते हुए अपना आनंद बयां करने लगी। (Threesome sex story)
वो मेरे पेट पर सहलाते हुए नीचे चूत की ओर अपना हाथ ले जाने लगा।

हम दोनों के जिस्म एक दूसरे को गर्म कर रहे थे और मैं कामुक होती जा रही थी।

उसने मेरी ब्रा के हुक खोलकर मेरी चूचियों को अपने हाथों में भर लिया।

इसी पल मुझसे भी रुका न गया और मैंने उसके गर्म लंड को अपनी मुट्ठी में थाम लिया।
वो मेरी चूचियों को दबाने लगा और मैं उसके लंड की मुठ मारने लगी, उसके बालों से भरे आंडों को सहलाने लगी।

तभी वह धीरे से मेरे कान में फुसफुसाया- तुम कुछ भूल तो नहीं रही हो जान?
मैंने सेक्स  करते करते ही अपना फोन उठाया और अपने नीरस पति का नम्बर डायल किया।

मेरे बॉयफ्रेंड को उसी समय एक शरारत सूझी।
उसने मेरी पैंटी में हाथ दे दिया और मेरी चूत के गर्म दाने को रगड़ने लगा।

मेरे जिस्म में एकदम से करंट दौड़ गया। (Threesome sex story)

मुझे लगा कि फोन को फेंक दूं और अपने बॉयफ्रेंड को इतनी जोर से भींच लूं जितनी मुझमें ताकत हो।

मैं (गहरी सांस लेते हुए)- हे-हे … हैलो शम्भू, देखो … आह्ह … मैं अपने दोस्तों के साथ बाहर डिनर पर जा रही हूं, तुम अपना … आह्ह .. देख लेना … ओके, बाय!

मैंने फोन रखा और पलटते हुए बॉयफ्रेंड की गोद में बैठ गई और अपनी चूचियों को उसकी पसीने से गीली हो चुकी छाती से सटा लिया।
हम एक दूसरे की आंखों में देखते हुए एक दूसरे की मन की बात पढ़ रहे थे।

मैंने आगे झुकते हुए उसके होंठों पर होंठों को रख दिया और चूमने लगी।
जैसे ही दोनों की जीभ एक दूसरे के मुंह में गई, हमारा वाइल्ड सेक्स चालू हो गया।

वो पीछे घास पर लेट गया और मुझे अपने ऊपर खींच लिया। (Threesome sex story)
मैं उसके मुंह से उसकी लार खींच रही थी और वो मेरी गांड को इतनी मस्ती में दबा रहा था कि मेरी सिसकारियां निकलने को हो रही थीं।

मैंने अपने होंठों को उससे छुड़ाया और जल्दी से 69 पोजीशन पकड़ ली।

अपनी गांड मैंने उसके मुंह पर सटा दी और उसने मेरे चूतड़ों को हाथों में थाम लिया।

उसने चूतड़ों को खोलते हुए अपनी नाक मेरी गांड की दरार में सटा दी और मेरी गांड के छेद को चाटने लगा।
मैंने उसके मोटे लंड को थाम लिया और उसके प्रीकम को चाटते हुए लंड को चूसने लगी।

Threesome sex story

इससे उसकी वासना और ज्यादा भड़क उठी और वो मेरी चूत के होंठों को जोर से चूसने लगा।

वो इतनी कामुकता से मेरी चूत को चाट रहा था कि मेरी टांगें कांपने लगीं। (Threesome sex story)
अगर उसका लंड मेरे मुंह में नहीं होता तो अपनी तेज सिसकारियों से मैंने वहां बड़ी भीड़ इकट्ठी कर ली होती।

वो मेरी गांड पर थप्पड़ लगाते हुए मेरी चूत के होंठों को चूस-काट रहा था, साथ ही बीच बीच में मेरी गांड में अपनी गर्म जीभ भी घुसा देता था।

हम दोनों सेक्स की आग में तप रहे थे कि इसी बीच मैंने झाड़ियों के पीछे किसी को लड़ते हुए सुना।
उनकी बातें सुनकर लग रहा था कि एक लड़की अपने बॉयफ्रेंड को ज्यादा ठरकी होने के लिए डांट रही थी।

सुनकर मुझे लगा कि वो लड़की जैसे मेरा ही उदाहरण देकर कह रही हो ‘तो तुम चाहते हो कि मैं भी उस शादीशुदा रंडी के जैसे बन जाऊं!’

मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी गांड को धकेला और फिर अपना लंड मेरी चूत में देने के लिए तैयार कर लिया।
मैं उल्टी घोड़ी बन गई और उसने मेरी गीली चूत में लंड को उतारना शुरू कर दिया और मैं गांड उछालकर चुदने लगी।

लंड का पूरा मजा लेने के लिए मैंने लंड को चूत में पूरी लम्बाई तक उतरवा लिया। (Threesome sex story)
अपनी सिसकारियों पर मैं पूरा काबू करके चल रही थी।
हमें सावधान भी रहना था क्योंकि हम लोग खुले में चुदाई कर रहे थे।

तभी मैंने देखा कि झाड़ियों के पीछे से कुछ चीज हमारी ओर इशारा कर रही थी।

एकदम से मैंने हाथ अंदर दिया तो मेरे हाथ में एक हाथ आ गया।
मैंने उसे खींचा तो एक लड़का एकदम से वहां से उठकर भागा।

मैंने तुरंत उसकी गर्लफ्रेंड को पकड़ लिया जो हमारी चुदाई का वीडियो रिकॉर्ड कर रही थी।
तभी मैंने उसे पकड़ कर अपनी तरफ खींचा और अपने बॉयफ्रेंड की गोद में पटक दिया।

वो छूटने की कोशिश करने लगी और उसने मेरे बूब्स को पकड़ कर भींच लिया। (Threesome sex story)
लड़की- मुझे जाने दे रंडी … मेरा बॉयफ्रेंड भाग गया है, जाकर उसे पकड़ … मेरे पास तेरी चूत को चोदने के लिए लंड नहीं है।

इसी आपाधापी में मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी चूत को टटोला और अपना लंड उसमें पेल दिया।
लंड का मजा और उस लड़की का मेरे मुंह के पास आकर बोलना मुझे और ज्यादा उत्तेजित करने लगा।

मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे कसकर पकड़ लिया इस मकसद से कि मैं उस लड़की को छोड़ दूंगी और अपनी गांड को उसके लंड पर ऊपर नीचे करते हुए चुदने लगूंगी।
लेकिन वो लड़की चुप होने का नाम नहीं ले रही थी और मैंने उसे चुप करने के लिए उसके होंठों पर होंठ रख दिए।

वो लड़की थोड़ी मोटी थी लेकिन हाइट में कम थी, जिससे मुझे वो काफी प्यारी लग रही थी।

उसके बदन की कामुक गंध और उसके छोटे उभरे हुए निप्पल्स मुझे काफी उत्तेजित कर रहे थे।
वो अपने चूचों को मेरे चूचों के साथ रगड़ रही थी। (Threesome sex story)

जब उसने देखा कि मेरा बॉयफ्रेंड मेरी चूत चोद रहा है और दोनों को ही बांहों में लिए हुए है, तो उसने विरोध करना बंद कर दिया।

मैं- तुम इतनी चिड़चिड़ी क्यूं हो, केवल कुतिया ऐसा करती हैं!
लड़की- सब तुम्हारी वजह से! मेरा बॉयफ्रेंड तुम्हारी बॉडी को देख उसकी तुलना मेरे बदन से कर रहा था। रंडी!
मैं- ओह, तो फिर वो जरूर तुम जैसी कुतिया को मनाते मनाते थक गया होगा।

ये सुनकर लड़की ने मेरे मुंह पर थूक दिया।
उसकी हाइट और बदन का साइज देखकर मुझे उसकी इस हरकत पर हंसी आ गई लेकिन वो इस वक्त पूरा मजा ले रही थी।

फिर मैंने उसको अपने स्टाइल वाला मजा चखाने की सोची।
मैंने उसको वहीं घास पर नीचे दबा लिया।
वो छूटने की कोशिश करने लगी।

मैंने देखा कि वो नीचे से नंगी थी, उसने पैंटी नहीं पहनी हुई थी। (Threesome sex story)

मैं उसके ऊपर ही लेट गई और मेरा बॉयफ्रेंड मेरे ऊपर आ लेटा।
उसने लड़की को नजरअंदाज करते हुए मेरी चूत में लंड देने की तैयारी कर ली।

आपाधापी में उसका लंड मेरी गांड के छेद पर जा सटा।
मैं उसके हाथ पर चांटा मारते हुए- अब तक तुम्हें ही समझ जाना चाहिए था कि कौन से छेद पर लंड लगा है, अभी गांड में नहीं हनी … और बिना ल्यूब्रिकेंट तो बिल्कुल नहीं!

इतने में वो लड़की मेरे गीले बदन का फायदा उठाते हुए निकल भागने की कोशिश करने लगी।
लेकिन मैंने उसकी लैगिंग को पकड़ लिया।

मैंने बॉयफ्रेंड को उसने सामने खड़ा होने के लिए कहा।
वो छूटने की कोशिश कर रही थी और उसकी गांड का छेद लगातार मेरे मुंह पर रगड़ खा रहा था।

मुझे इसमें हंसी के साथ बहुत मजा भी आ रहा था। (Threesome sex story)
मैंने उसकी गांड की छेद के पास उसकी लैगिंग में अपना अंगूठा दे दिया और उसे छेद के पास से फाड़ दिया।

लड़की की गांड और छेद अब मेरे सामने था।
उसको शांत करने के लिए मैंने उसकी गांड पर चांटे मारे।
मेरा बॉयफ्रेंड उसके सामने ही खड़ा था और उसका लंड उस लड़की के मुंह के ठीक सामने था।

अब उस लड़की ने लंड को पकड़ लिया और मुंह में लेकर चूसने लगी।

मेरे बॉयफ्रेंड को मजा आने लगा लेकिन बाद में उसे पता लगा कि ये मेरा मुंह नहीं था जो उसका लंड चूस रहा था।
मैं- अब रंडी कौन है? तुम्हें ये लंड अच्छा लग रहा है ना कुतिया? हां, पसंद है तुम्हें … ये तुम्हारे बॉयफ्रेंड के लंड से बड़ा है ना? चूस इसे, अच्छी चुदक्कड़ रंडी की तरह चूस। (Threesome sex story)

मैंने उसके चूतड़ों को फैला दिया और उसकी गांड के छेद को चाटने लगी।
इससे उसको भी मजा आने लगा।

मैं- तुझे मजा आ रहा है ना? खुद को अब चुदक्कड़ कुतिया बोल … कमॉन … बोल जल्दी …

अब मैंने उसकी गांड पर थप्पड़ मारा और उसकी चूत के होंठों को खोलने लगी।
इससे उसे और मजा आया और वो चिल्लाई- हां, मैं एक चुदक्कड़ कुतिया हूं।
उसने लंड चूसते हुए तेजी से अपनी गांड हिलाना शुरू कर दिया।

मैं उसकी चूत में उंगली करने लगी और उसकी गांड में जीभ अंदर तक घुसाने लगी। (Threesome sex story)
उसको मेरे बॉयफ्रेंड का लंड चूसते देख मुझे उससे जलन हो रही थी क्योंकि वही लंड कुछ देर पहले मेरी चूत में था।

मैंने उसकी टांगों को पकड़ लिया और उठती चली गई।
इससे वो लड़की अब मेरे और मेरे बॉयफ्रेंड के बीच में लटक गई।

उसने बॉयफ्रेंड की जांघों को थाम लिया और लंड चूसना जारी रखा।
मैं उसकी चूत में उंगली तो नहीं कर पा रही थी लेकिन चूत से चूत को रगड़ने लगी।

मेरी फूली हुई गीली चूत उसकी टाइट बालों भरी चूत से रगड़ खा रही थी।
मैं अपनी गांड को आगे पीछे करने लगी जैसे कि मैं उसे चोद रही हूं।

इसी वक्त मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी गर्दन को पकड़ा और अपनी तरफ मुझे खींच लिया। (Threesome sex story)
इस दौरान लड़की के पैर मेरी पकड़ से छूट गए और वो नीचे गिर गई, जिसके बाद वो भूखों की तरह लंड को चूसने में लग गई।

मेरे बॉयफ्रेंड ने और करीब मुझे खींचा जिससे मुझे टांग खोलनी पड़ी और बॉयफ्रेंड ने पीछे से मुझे मेरी गांड पर हाथ लाते हुए थाम लिया।

वो लंड को उस लड़की के मुंह से निकालने की कोशिश कर रहा था लेकिन उसने हाथ से लंड को पकड़ा हुआ था और मुंह से निकलने नहीं दे रही थी।

मेरे बॉयफ्रेंड से अब रुका नहीं जा रहा था और उसने मेरे निप्पल को चूसना शुरू कर दिया।

वो इतनी जोर से चूस रहा था कि मैं अपनी सिसकारियों को नहीं रोक पाई।
मैंने उसे धीरे करने के लिए कहा लेकिन वो बस अपनी धुन में लगा रहा।
अब लड़की की चुसाई ही मुझे बचा सकती थी।

उसने और जोर से मेरे बॉयफ्रेंड के लंड को चूसना शुरू कर दिया। (Threesome sex story)
एकदम से उसके लंड से वीर्य निकलने लगा और लड़की के मुंह को उसने भर दिया।

बॉयफ्रेंड ने मुझे छोड़ दिया जिससे मैं जमीन पर आ गई और उसकी लड़की का मुंह मेरी जांघों के बीच आ गया।

मैंने उसकी गांड पर थप्पड़ मारा और उसकी चूत में उंगली करने लगी।
मैं- अब मैं तुझे मेरे बॉयफ्रेंड का माल पीने की सजा दूंगी, तेरा पानी मैं निकालूंगी।

उसने माल को मुंह में भर रखा था और मुझे दिखाते हुए चिढ़ा रही थी जो मेरी बर्दाश्त के बाहर था।

मैंने उसे गांड से कसकर पकड़ लिया।
वो मुझे किस नहीं करने दे रही थी।

मैंने तेजी से उसकी चूत में उंगली करना शुरू किया जिससे वो सिसकारने पर मजबूर हो गई।
जैसे ही उसका मुंह खुला, मैंने अपने होंठ उसके होंठों से सटा दिए।

अपने बॉयफ्रेंड का माल मैंने अपने मुंह में पीना शुरू कर दिया। (Threesome sex story)

इस दौरान मैं अपनी चूत को उसकी चूत से रगड़ रही थी।
वो मेरे निप्पलों को चिकोट रही थी ताकि मुझे मेरे हिस्से का मजा मिलता रहे।

मेरी हिलती हुई गांड देखकर मेरा बॉयफ्रेंड मेरे पीछे आ खड़़ा हुआ।
उसने मेरी गांड की दरार में अपना लंड सटा दिया।
 मैं भी गांड को हिला रही थी तो उसका लंड मेरी गांड को रगड़ रहा था।

वो मुझे दोबारा चोदना चाहता था लेकिन उससे पहले ही उसके लंड ने फिर से हल्की सी पिचकारी मेरी गांड पर छोड़ दी।
उधर उस लड़की और मैंने सारा माल पी लिया था।

तभी हमने सिक्योरिटी गार्ड की सीटी सुनाई दी।
गार्ड को पता लग गया था कि झाड़ियों के पीछे कुछ चल रहा है। (Threesome sex story)

मैंने लड़की से अपने कपड़े उठाने के लिए कहा।
उसने जल्दी से अपनी फटी हुई लैगिंग उठाई और जल्दी से दूसरी झाड़ी की तरफ भागी।

मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी ब्रा और पैंटी उठाई और हम हंसते हुए वहां से भाग पड़े।

वो लड़की भी हमें अजब नजरों से देखती रह गई।
शायद इसलिए कि वो बेचारी किसी गलत आदमी से चुद गई थी!

तो दोस्तो, इस तरह से मैंने अपने Threesome sex  में एक दूसरी लड़की को शामिल किया।
आजकल मेरा किसी तीसरे आदमी को चुदाई में शामिल करना बहुत अच्छा लग रहा है। (Threesome sex story)

अगर आपको भी मेरी सेक्स स्टोरीज में मजा आ रहा है और आपका लंड तन जाता है तो मुझसे ऑनलाइन कनेक्ट करें।

मैं दावे के साथ कह सकती हूं हम दोनों को Threesome sex  और BDSM रो प्ले में बड़ा मजा आएगा।
मुझसे अभी बात करने के लिए मेल करे 

[email protected]  

(Threesome sex story)

Escorts in Delhi

This will close in 0 seconds