मेरी मोटी गांड के दीवाने जीजू ने मुझे चोद दिया – जीजू के साथ XXX

मेरी मोटी गांड के दीवाने जीजू ने मुझे चोद दिया – जीजू के साथ XXX

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “मेरी गांड के दीवाने जीजू ने मुझे चोद दिया – जीजू के साथ XXX”। यह कहानी पारुल की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएंगी मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

मेरा नाम पारुल है और मैं जालंधर की रहने वाली हूँ। मैं एक कॉल सेंटर में काम करती हूं. मैं बहुत सेक्सी हूं और मेरा फिगर 36-30-38 है. आज मैं आप सभी को अपनी सेक्स कहानी बताने जा रही हूँ कि कैसे मेरे जीजू ने मुझे चोदा।

मेरे जीजू बहुत स्मार्ट हैं और वो मुझे बहुत पसंद हैं. हमारे बीच गंदे मजाक होते रहते हैं. जब भी जीजू मेरे घर आते हैं तो हम दोनों एक दूसरे से गंदा मजाक करते हैं. (जीजू के साथ XXX)

मुझे पता था कि जीजू मुझे चोदना चाहते हैं क्योंकि जब भी मैं बाथरूम में नहाती थी और बाथरूम से बाहर आती थी तो जीजू बाथरूम में जाकर मेरी ब्रा और पैंटी में ही मुठ मारते थे और ये बात मुझे पता थी.

जीजू मुझे गंदी नजरों से देखते थे. मुझे भी मेरे जीजू अच्छे लगते है. लेकिन वो मुझे चोदना चाहते थे इसलिए वो मेरे Big Boobs और गांड को बहुत देखते थे।

जीजू जब भी आते थे तो मुझे गले लगा लेते थे और मेरे मम्मे दबा देते थे. मुझे भी ये सब बहुत अच्छा लगता था.

एक दिन मैं और जीजू एक दूसरे से मजाक कर रहे थे तो उस दिन जीजू ने मुझसे कहा- पारुल, तुम बहुत सेक्सी हो.

इतना कह कर जीजू ने मेरे मम्मे दबा दिये. मुझे बहुत अच्छा लग रहा था और मैं गर्म भी हो गयी थी. चूँकि मैंने कोई विरोध नहीं किया तो मानो जीजू को खुली छूट मिल गयी। (जीजू के साथ XXX)

इसके बाद जीजू को जब भी मौका मिलता, वो मेरे मम्मे दबा देते थे और मैं जीजू को सेक्सी स्माइल दे देती थी.

अब हमारे बीच खुल कर सेक्स की बातें होने लगीं. एक दिन मैं अपने कमरे में सो रही थी, तभी जीजू मेरे कमरे में आये और मेरे मम्मे दबाने लगे.

मैंने उस दिन मैक्सी पहनी हुई थी और उसके नीचे कुछ भी नहीं पहना था. मैं अंदर से बिल्कुल नंगी थी. जीजू मेरे बूब्स को मैक्सी के ऊपर से पूरी ताकत से दबा रहे थे।

कुछ पल बाद जीजू ने मेरे मम्मे दबाते हुए अपना हाथ मेरी मैक्सी के अन्दर डाल दिया. अब उसने मेरे चूचों को अच्छे से पकड़ लिया और दबाने लगा. इससे मैं बहुत गर्म हो गयी और मेरी चूत से पानी निकलने लगा.

फिर जीजू मेरी मैक्सी को ऊपर उठाकर मेरी Tight Chut को सहलाने लगे. मैं सोने का नाटक कर रही थी, मुझे अपनी चूत में उंगली करवाने में मजा आ रहा था। कुछ ही देर में मैं बहुत गर्म हो गयी.

जीजू ने मेरे कान में कहा- पारुल, उठो, मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ।

चूँकि मैं भी जीजू से चुदाई करवाना चाहती थी. मैं उठी तो जीजू ने मेरी मैक्सी उतार दी. मैंने जीजू से कहा- मुझे नींद आ रही है.

जीजू- अभी चोदने दो, फिर सो जाना मेरी जान.

मैं जीजू के सामने पूरी नंगी थी, मैंने कहा- अगर दीदी को पता चल गया तो?

जीजू बोले- पारुल, मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और तुम्हें चोदना चाहता हूँ, तुम मेरी बन जाओ, मैं तुम्हें तुम्हारी बहन से भी ज्यादा प्यार करता हूँ और तुम्हें खुश रखूँगा। (जीजू के साथ XXX)

इसके बाद जीजू भी नंगे हो गये और मुझे चूमने लगे. मैं भी जीजू को चूमने लगी. इस समय सभी लोग सो रहे थे. हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे. उसके बाद जीजू मेरे बूब्स से खेलने लगे और उन्हें दबाने लगे।

कुछ पल बाद जीजू मेरी चूत चाटने लगे. मैंने जीजू से कहा- जीजू, मैं बिना कंडोम के Chut Chudai नहीं करवाऊंगी.

वो बोला- रानी, मैंने कंडोम खरीद लिया है.. मैं तेरी बहन को भी कंडोम लगाकर चोदता हूँ।

मैंने कुछ नहीं कहा.

जीजू बोले- पारुल, तुम अपनी बहन से भी ज्यादा सेक्सी हो और तुम्हारे चूचे और गांड तुम्हारी बहन से बड़ी हैं.

जीजू ने मुझसे अपना लंड चूसने को कहा तो मैं जीजू का लंड चूसने लगी. अब मेरी कामुकता चरम पर थी और मैं खुद को रोक नहीं पा रही थी.

जीजू ने मुझे चोदने के लिए अपने लंड पर कंडोम लगा लिया. जीजू ने कहा कि मैं तेरी बहन को भी इसी ब्रांड के कंडोम से चोदता हूँ.

इसके बाद उसने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और मुझे चोदने लगा. जीजू के पहले धक्के में उनका आधा लंड मेरी चूत में चला गया और मुझे दर्द होने लगा और मैं चिल्लाने लगी.

जीजू ने मेरे होंठ बंद कर दिये और धीरे-धीरे मुझे चोदने लगे।

मुझे भी जीजू से चुदवाने में मजा आने लगा. जीजू मुझे तेजी से और जोश से चोदने लगे. मैं भी अपनी Moti Gand खूब उठा उठा कर जीजू के लंड से अपनी चूत चुदवा रही थी.

मुझे जीजू के लंड से चुदने में बहुत मजा आ रहा था. जीजू मुझे जोर जोर से चोद रहे थे और मेरा कमरा ‘आह आह..’ की आवाजों से भर गया था. (जीजू के साथ XXX)

मैं कामुक सिसकारियाँ लेते हुए चुद रही थी, ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह आह जीजू और चोदो मुझे आह..’

मैं बड़े मजे से जीजू से चुदवा रही थी. करीब दस मिनट बाद हम दोनों चुदाई करते हुए झड़ गये.

उसके बाद जीजू और मैं एक दूसरे को चूमने लगे और नंगे ही एक दूसरे से लिपटने लगे. कुछ देर चूमने-चाटने के बाद जीजू फिर से मेरी चूत चाटने लगे। मैं भी फिर से गर्म होने लगी.

जीजू बहुत अच्छे से मेरी चूत चाट रहे थे. मैं अपनी टाँगें फैलाकर चूत चुसाई का मजा ले रही थी।

उसके बाद जीजू ने मुझे घोड़ी बना दिया. ये डॉगी स्टाइल मेरे जीजू का सबसे बेस्ट स्टाइल है. उसने मुझे डॉगी स्टाइल में बहुत अच्छे से चोदा. (जीजू के साथ XXX)

मुझे सेक्स के दौरान अपनी चूत चटवाना सबसे ज्यादा पसंद है और मैं अपनी चूत अपने जीजू से खूब चटवाती हूँ।

जब जीजू ने पीछे से मेरी चूत में अपना लंड डालकर मुझे चोदना शुरू किया तो मैं एकदम से कराहने लगी और जीजू का लंड अपनी चूत में लेकर चुदवाने लगी.

मुझे पीछे से अपनी चूत चुदवाने में बहुत मजा आ रहा था. जीजू भी मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मुझे तेजी से चोद रहे थे. साथ ही वो मेरे बूब्स भी मसल रहे थे.

सेक्स करते करते हम दोनों स्खलित हो गये. उस रात जीजू और मैंने दो बार चुदाई का मजा लिया.

जीजू ने मुझसे कहा- पारुल, तुम्हारी गांड बहुत मस्त है, तुम्हारी गांड तो तुम्हारी बहन से भी बड़ी है. इस बार जब आऊंगा तो तेरी गांड जरूर चोदूंगा. (जीजू के साथ XXX)

इसके बाद सुबह जीजू ने मुझे शॉपिंग करवाई.

यहां तक कि मेरी बहन को भी नहीं पता कि मैं अपने जीजू से चुदाई करवाती हूं.

मैं और जीजू पूरी रात एक दूसरे से बात करते हैं। अब जब भी दीदी कहीं बाहर जाती हैं तो जीजू और मैं मोबाइल पर एक दूसरे से सेक्स चैट करते हैं. जीजू मुझसे बहुत प्यार करते हैं और जब भी आते हैं तो मेरे लिए कुछ न कुछ लेकर आते हैं।

जीजू को जब भी मौका मिलता है, वो मुझे चूम लेते हैं और मेरे मम्मे दबा देते हैं. कभी-कभी हम होटल में जाकर सेक्स करते हैं.

आपको मेरी ये सेक्स कहानी कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताये।

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “wildfantasystory.com” की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Escorts in Delhi

This will close in 0 seconds