साली के साथ दारू पार्टी और अय्याशी – वाइफ सिस्टर Xxx कहानी

साली के साथ दारू पार्टी और अय्याशी – वाइफ सिस्टर Xxx कहानी

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “साली के साथ दारू पार्टी और अय्याशी – वाइफ सिस्टर Xxx कहानी”। यह कहानी रमन की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

वाइफ सिस्टर Xxx कहानी में मुझे अपनी पत्नी की चचेरी बहन यानी मेरी साली के घर जाना था, तो वहां मेरे साथ क्या हुआ? उसने मेरे साथ कैसा व्यवहार किया?

दोस्तो, मैं आपका दोस्त रमन हूँ.
मेरी सेक्स कहानी के इस भाग में आपका फिर से स्वागत है।
हालाँकि इस सेक्स कहानी का शीर्षक अलग है, लेकिन यह पिछली कहानी से संबंधित कहानी है।

पिछली कहानी में: हॉट वाइफ XXX कहानी आपने पढ़ा था कि मैंने अपनी बचपन की प्रेमिका आईशा से शादी कर ली थी और शादी की रात उसके साथ सेक्स का मजा लिया था.

अब आगे की वाइफ सिस्टर Xxx कहानी:

उसकी बहन Dolly शादी के 3 दिन बाद चली गई.
फिर हम दोनों भी एक महीने के बाद बैंगलोर आ गये.

मुझे मुंबई से नौकरी का अच्छा ऑफर मिला तो मैं मुंबई आ गया।
आईशा बैंगलोर में ही थी.

जब मैं मुंबई आया तो आईशा ने कहा- तुम डॉली के घर में रुक जाओ. उनका मुंबई में अपना फ्लैट है.
ये डॉली मेरी पत्नी आईशा की चचेरी बहन थी जिसने शादी की रात सेक्स की चीखें सुनी थीं.

ये दोनों बचपन से ही अच्छी दोस्त थी.
डॉली के माता-पिता बचपन में ही गुजर गए थे, जबकि आईशा के पिता उसे अपनी बेटी मानते थे और दोनों एक-दूसरे को अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करते थे।

डॉली भी कमाल की दिखती हैं, वह बिल्कुल एक्ट्रेस की तरह दिखती हैं।

मैं उसके फ्लैट पर पहुंचा, घंटी बजाई और दरवाज़ा खुला।

वह शायद डॉली की नौकरानी थी.
उसने कहा- आप रमन जी हैं ना?
मैने कह हां।

तो उसने कहा- मैडम ने मुझे बताया था. आप बैठें। मैडम 9 बजे तक आ जाएंगी.
उसने मुझे पानी, कोल्ड ड्रिंक, कुछ नाश्ता दिया और चली गई।

मैं फ्रेश होकर टीवी देखने लगा.
थकान के कारण मुझे नींद आ गई.

मेरी नींद तब खुली जब मेरे कानों में एक मधुर आवाज़ पड़ी- उठो जीजाजी!
जब मैं उठा और आंखें खोली तो डॉली किसी परी की तरह मेरे सामने खड़ी थी.

पहली बार उन्हें सामने से गाउन में देखा. वह बड़ी सुन्दर लग रही थी। उसने घुटनों तक लम्बा काला रेशमी गाउन पहना हुआ था जिसका गला खुला हुआ था और उसके Big Boobs के उभार एक पतली ब्रा में कैद थे। (वाइफ सिस्टर Xxx कहानी)

पतली ब्रा इसलिये लिखी क्योंकि डॉली के स्तनों के सख्त निपल्स उसके रेशमी गाउन के बाहर से दिख रहे थे।

शायद वो खुद ही अपने स्तन दिखाने के लिए उत्सुक लग रही थी इसलिए मेरे उठने के बाद भी वो मेरे सामने झुकी हुई थी ताकि मैं उसके स्तन देख सकूं.

मैं उठ कर फ्रेश हुआ और वासना भरी नजरों से उसके स्तनों को देखने लगा।
फिर हॉल में बैठ गये.

वह एक प्लेट में मेरी पसंदीदा पनीर चिल्ली, वेज पुलाव और सलाद लेकर आई।
उसके हाथ में व्हिस्की की बोतल थी.

मैंने नशे में उसकी ओर देखा और कहा- क्या बात है? शबाब के हाथ में शराब!
वो हंसा और आंख मार कर बोली- जब सामने शबाब-शराब है तो चलो अब जश्न मना लें.

मैं भी तुरंत सहमत हो गया.

डॉली ने शराब की बोतल खोली और दोनों का पहला पैग बनाया।
हम दोनों ने चियर्स किया और पहला पैग पी लिया.

इसी तरह धीरे-धीरे हम दोनों ने 4-4 पैग पी लिए और अब डॉली को नशा होने लगा था. जब वह पांचवां पैग पी रही थी तो उसका गिलास गिर गया और शराब उसके ऊपर गिर गई. (Hindi Sex Story)

वह इतनी नशे में थी कि उसे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था.
उसने लड़खड़ाती आवाज में मुझसे कहा- प्लीज़ मुझे साफ़ कर दो।

मैंने उसकी तरफ देखा.
मैं भी नशे में था.

उसकी छाती पर तने हुए उसके बड़े स्तनों की नोकें गाउन में से साफ़ दिख रही थीं।

उसका फिगर 36-30-38 था.

जैसा कि मैंने आपको बताया कि वह एक्ट्रेस की तरह दिखती है।
मैं तो उसे देखता ही रह गया और जब वो उठकर बाथरूम की तरफ जाने लगी तो उसकी फूली हुई गांड देखकर मेरा फौलादी लंड खड़ा हो गया. (वाइफ सिस्टर Xxx कहानी)

मैंने उससे कहा- मैं नहीं कर सकता … क्योंकि उसके लिए मुझे तुम्हारा गाउन भी खोलना पड़ेगा.

वो बोली- प्लीज़ यार, कुछ मत सोचो और जैसे चाहो साफ़ करो।
मैंने उसका गाउन उतार दिया और जैसे ही उसका गाउन खोला तो मुझे उसकी लाल रंग की ब्रा के अंदर उसके बहुत बड़े और मुलायम स्तन दिखे।

उनको देख कर मेरा मन कर रहा था कि पकड़ कर चूस लूं.

वो हंस कर बोली- कैसे है?
मैंने कहा- बहुत बढ़िया.

अब तक मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था.

मैंने उसके गोरे बदन को तौलिये से बहुत धीरे से साफ़ किया।
मैं उसके स्तनों को देखता ही रह गया.

फिर वो बोली- अब देखते ही रहोगे या कुछ करोगे भी? प्लीज़ मेरी ब्रा भी उतार दो!

उसी पल मुझे आईशा का मासूम चेहरा याद आ गया.
मैंने उससे कहा- ये ग़लत है. मुझे आईशा से प्यार है.

वो बोली- जीजा जी, आईशा को सब पता है. वह अकेली नहीं है जो आपसे प्यार करती है। वह नाराज नहीं होंगी.
मैं भी नशे में था, वासना मुझ पर हावी हो रही थी।

मैंने कहा- आप मुझसे पाप करवा रहे हैं.
वो हंस कर बोली- मेरी Chut Chudai करके तुम पापी नहीं बनोगे, ये बात पक्की है.

जब उसने साफ शब्दों में सेक्स के बारे में बात की तो मेरा लंड जोश में आ गया.
मैंने धीरे-धीरे एक-एक करके उसके सारे कपड़े उतार दिए।

मैंने उसकी पैंटी को हाथ लगाया तो वो चूत के रस से पूरी गीली हो चुकी थी.
मैं समझ गया कि वो भी मेरे स्पर्श से उत्तेजित हो रही थी.

लेकिन जैसे ही उसने अपने सारे कपड़े उतारे तो मानो मेरा नशा उतर गया.
मैंने भी धीरे धीरे अपने सारे कपड़े उतार दिए.

फिर मैंने अपने लंड को शराब से नहलाया और उसके मुँह के पास ले जाकर उससे कहा- लो लॉलीपॉप और चूसो.

वो भी नशे की हालत में मेरे कहते ही मान गई और मेरे लंड को पूरा मुँह में लेकर चूसने लगी.
मैं बोतल से वाइन को बूंद-बूंद करके अपने लंड पर टपकाता रहा और वो मेरा लंड चूसती रही और वाइन भी पीती रही.

नीचे से मैं उसकी बेहद गीली और गर्म Tight Chut में उंगली कर रहा था.
धीरे-धीरे मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसे बहुत दर्द होने लगा और वो जोर-जोर से कराहने लगी।

मैं समझ गया कि उसकी चूत अभी तक कुंवारी है और आज मैं पहली बार उसकी चूत में लंड पेलूँगा।

उसके लंड चूसने के कारण जब मैं झड़ने वाला था तो मैंने लंड उसके मुँह से बाहर निकाला और सारा वीर्य एक गिलास में डाल दिया। फिर उसी गिलास में एक और पैग बनाया और डॉली को पिलाया. (वाइफ सिस्टर Xxx कहानी)

वो बड़े मजे से उसे पी गयी और मैं उसकी चूत को चाटने लगा.

कुछ ही देर में पुरी गर्म हो गई और उसकी चूत से पानी भी निकलने लगा.
उसे इस बात का ज़रा भी एहसास नहीं था कि उसके साथ क्या हो रहा है.

कुछ देर बाद मैंने उसे ड्रिंक बनाकर दिया और उसे अपनी गोद में उठाकर बेडरूम में ले आया और बेड पर लेटा दिया.

मैंने उसकी कमर के नीचे एक तकिया रख दिया. इससे उसकी चूत का मुँह थोड़ा सा खुल गया और मुझे उसकी चूत का मुख साफ़ दिखाई देने लगा। (Hindi Sex Stories)

फिर मैंने अपना लंड उसकी गर्म चूत पर रखा और अंदर डालने लगा.
लेकिन मेरा लंड उसकी टाइट चूत के अंदर नहीं जा रहा था.

मैंने उसकी कमर को कस कर पकड़ लिया और अपना लंड उसकी चूत के मुँह पर रख कर एक जोरदार धक्का लगा दिया।

मेरा पूरा लंड फिसल कर उसकी चूत में समा गया और डॉली के मुँह से जोर से चीखने की आवाज निकल गई.
उसका शराब का सारा नशा भी उतर गया.

मैंने नीचे देखा तो उसकी चूत से खून निकल रहा था.
डॉली की आंखों से आंसू निकल रहे थे, वह जोर-जोर से सांसें ले रही थी।

वो पसीने से पूरी भीग चुकी थी और अब उसके मुँह से गालियाँ भी निकलने लगी थीं. डॉली बोली- मादरचोद, धीरे कर…मैं तेरी पत्नी हूँ मैं कोई रंडी नहीं हूँ।

उसकी गालियों से मैं और उत्तेजित हो गया और मैंने उसके एक स्तन को जोर से भींच दिया.
‘तुम मेरी साली हो. अभी तक पत्नी नहीं बानी हो. (वाइफ सिस्टर Xxx कहानी)

डॉली- आज से मैं भी तुम्हारी हुई. अब हम दोनों तुम्हारी पत्नियाँ हैं और तुम हम दोनों को समान रूप से प्यार करोगे।
मैंने भगवान से कहा – मुझे एक ने छोड़ा और आपने मुझे प्यार करने के लिए दो दे दी।

मन में यह कह कर मैंने धीरे धीरे अपना लंड पेल दिया और उसे चोदने लगा. वो कुछ कहना चाहती थी लेकिन चुदाई के दर्द के कारण कुछ बोल नहीं पा रही थी.

डॉली कह रही थी- आह्ह उह्ह बाहर मत निकालो प्लीज़… आह्ह अब से मैं तुम्हारी हूँ मेरे पति प्लीज मुझे चोदो मुझे मिसेज रमन समझे… आह्ह।

वो कामुकता से कराह रही थी और मैं लगातार जोर-जोर से धक्के मार रहा था।

मेरे लंड के चुत में अन्दर-बाहर होने से पूरे कमरे में फच फच की आवाजें आ रही थीं.
कुछ मिनट के धक्को के बाद उसे भी मजा आने लगा और वो भी मेरा पूरा साथ देने लगी.

मैं: क्यों मिसेज रमन, अब तो तुम्हें मेरे लंड से चुदने में मज़ा आ रहा है ना?
डॉली- हां पतिदेव, आह्ह उह्ह, और जोर से चोदो मुझे, और जोर से चोदो मुझे… फाड़ दो मेरी चूत को आज पूरी तरह से… आह्ह हां और जोर से… बना दो मेरी चूत का भोसड़ा। (वाइफ सिस्टर Xxx कहानी)

ऐसा लग रहा था मानो मैं उसकी कामुक आवाजें सुनकर पागल हो रहा हूं. ‘आईईईई आह्ह्ह हाँ और जोर से चोदो मुझे, चोदो मुझे जान… और जोर से चोदो मुझे… आज मुझे चोदो और मुझे औरत बना दो।’

मैंने पास में रखी शराब की बोतल से नीट शराब का एक लंबा घूंट लिया और अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी.

इसी बीच वो झड़ गयी थी.

दस मिनट बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने पूछा- कहां निकालूं?
डॉली- आज इसे मेरी प्यासी चूत में डाल कर इसकी आग बुझा दो।

मैंने अपना सारा वीर्य उसकी चूत में छोड़ दिया और थक कर बिस्तर पर लेट गया।
उस रात हमने खूब शराब पी और एक बार सेक्स भी किया।
फिर थककर हम नंगा ही सो गए.

अगले दिन सुबह उठकर मैंने एक बार फिर से उसकी चूत में अपना लंड डाला और उसे चोदा.

अब वो बड़े आराम से वहीं लेटी रही और मेरे लंड का मजा लेती रही क्योंकि रात भर की चुदाई से उसकी चूत फट गई थी जिससे मेरा लंड आसानी से अंदर-बाहर हो रहा था. (वाइफ सिस्टर Xxx कहानी)

उस दिन हम दोनों कहीं नहीं गये और पूरा दिन नंगे ही लेटे रहे. दोस्तो, अब डॉली और आईशा, हम तीनों पति-पत्नी की तरह रहते हैं।

अगर आपको वाइफ सिस्टर Xxx कहानी कैसी लगी कृपया कमेंट और मेल में बताएं.

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “wildfantasystory.com” की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Mumbai Call Girls

This will close in 0 seconds