नाइटआउट पर गर्लफ्रेंड की सील तोड़ी और उसकी चुत को सुजा दिया | Nightout Sex Stories

नाइटआउट पर गर्लफ्रेंड की सील तोड़ी और उसकी चुत को सुजा दिया | Nightout Sex Stories

नमस्कार दोस्तों, रितु जी की आज की कहानी शोभित की ज़ुबानी है, धन्यवाद रितु जी, आपने मुझे अपनी कहानियाँ प्रस्तुत करने का अवसर दिया। हैलो दोस्तों मैं शोभित Indore से। यह मेरी कहानी है। मुझे उम्मीद है आप इसे पसंद करेंगे।

हेलो दोस्तों, मैं शोभित, और मैं अपनी कहानी साझा करने जा रहा हूं कि कैसे मैंने 23 साल की उम्र में अपना कौमार्य खो दिया और अपने दोस्त के घर पर अपनी प्रेमिका की जमकर चुदाई की। तो चलिए कहानी पर आते हैं। (Nightout Sex Stories)

मैं शर्मीला टाइप का लड़का हूं और लड़कियों से कम ही बात करता हूं। भले ही मैंने अपनी लड़की की सबसे अच्छी सहेलियों में से एक के साथ पहले चुंबन किया है, मुझे कभी किसी लड़की को चोदने का मौका नहीं मिला।

यह कहानी करीब 1 साल पुरानी है।

मुझे एक लड़की मिली थी एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पे। तो हमारे नंबरों का रंग बदल गया और हम एक-दूसरे से मिलने लगे और एक-दूसरे के साथ घूमने लगे। मेरे सभी दोस्त और उसके कुछ दोस्त किसी जगह घूमने गए थे। (Nightout Sex Stories)

वाह मेरे सभी दोस्त मुझे उसके नाम से चिढ़ाने लगे। हमें समय सब अजीब था, पर बाद में वो गंभीर हो गई। फिर कुछ दिन मुझे पूछने लगी, कि क्या मैं सच में उसे पसंद करता था। मैंने भी हां कर दी, क्योंकि मुझे वो अच्छी लगती थी।

वैसे भी, जब लड़की सामने से पसंद करे, तो कोन “ना” कहता है। फिर हमारा मिलना बढ़ गया, और वो प्रपोजल के लिए जिद करने लगी। रह गया का प्रस्ताव, पर कुछ दिनों में ही हम दोनों का पहला किस हो गई। और क्या बताऊ, कितना मजा आया। उसके होठ थोड़े मोटे थे। उनको चुनने में ऐसा लग रहा था, मानो ये सब कभी खत्म ही न हो।

हम लॉन्ग ड्राइव पर जाके किस कर रहे हैं और खूब भूलभुलैया ले रहे हैं। मैं कॉन्फिडेंट नहीं था तो हमें समझ आ गया कि मैं वर्जिन था। (Nightout Sex Stories)

फिर एक दिन हम सब एक दोस्त के घर नाईटआउट पे गए। फिर खाना वगैरा खा कर सब अपने कमरों में गए। अब कमरे में सिर्फ मेरी गर्लफ्रेंड और मैं, और हमने लाइट बैंड कर दी थी। फिर हम दोनों ने एक दूसरे को गले लगाया, और कुछ 15 मिनट तक वैसे ही रहे।

फिर मैंने उसके होठों पर किस किया, और वो भी जवाब देने लगी। इसी बीच मैंने उसकी गांड को सहलाना चालू किया। इसके उसके अंदर की हवा और बढ़ गई, और वो और भूलभुलैया लेके किस करने लगी। ऐसे लग रहा था मानो ये किस खत्म ही ना हो।

फिर मैं धीरे-धीरे उसकी पैंटी में अपना हाथ दाल के उसकी नंगी गांड पे सहलाने लगा। मैं जोर से उसकी गांड दबाने लगा। अब वो और उत्तेजित होने लगी, और हम धीरे-धीरे बिस्तर की तरफ जाने लगे। अब मैं बेद पे बैठा गया, और उसको अपनी भगवान में बिठा लिया।

हमारी किसिंग लगती चालू थी। अब मैंने उसकी टॉप में हाथ डाला, और उसकी पीठ पर हाथ लगाने लगा। मेरा लंड पूरी तरह खड़ा हो गया था, और एक-दम सलाम मार रहा था उसकी छूट को। (Nightout Sex Stories)

वो भी बिल्कुल प्रो की तरह मेरे लंड के ऊपर नीचे हो रही थी. हलकी हमने कपड़े पहनने थे, पर रियल सेक्स की फीलिंग आ रही थी। इतने में मैंने सबसे ऊपर निकला के फेंक दी, और उसके नंगे बदन पे हाथ लगाने लगा।

पूरे कमरे में हमारी गरम महसूस हो रही थी, और उसमें भी मेरी शर्ट उतार के फेंक दी। अब मैं भी उसके बूब्स ज़ोर-ज़ोर से दबा रहा था। उसके बूब्स 34″ या 36″ साइज के हैं। बिल्कुल गोल बूब्स उसके, और एक दम परफेक्ट फिगर क्या बताएं। उसका फिगर देख के किसी का भी लंड सलाम मार दे। (Nightout Sex Stories)

अब वो मेरे लंड पे ऊपर-नीचे ऊपर-नीचे हो रही थी, और हमारी किस तो जैसे रुकने का नाम ही ना ले रही हो। अब मैंने उसकी ब्रा के स्ट्रैप पे हाथ लगा दिया, और उसे निकल गया। पर क्योंकि मैं कुंवारी थी, और किसी लड़की की ब्रा निकली नहीं थी। तो बहुत समय और कोशिश के बाद मैंने उसकी ब्रा निकाल के फेंक दी, और उसके कोमल से बूब्स को और ज़ोर से दबाने लगा।

इतने में मैंने भी उसके जोगर में हाथ डाला, और उसकी गांड फिर से सहलाने लगा। अब मैं बेद पे लेट गया, और वो मेरे ऊपर थी। धीरे-धीरे मैंने उसकी चुत के ऊपर हाथ फिरना चालू किया, और उसे और गरम करने लगा।

ये सब का रिएक्शन उसके किस और उसकी सेक्सी आवाजों में दिखने लगा, कि वो कितनी उत्तेजित हो रही थी। अब मैंने उसकी पलट दिया और उसे अपने नीचे ले आया। फिर मैंने उसके बाएं उल्लू को अपने मुह में लिया, और दाएं वाले उल्लू को अपने हाथों से सहलाने लगा। (Nightout Sex Stories)

उसके बाद में धीरे-धीरे उसके सिर से लेकर नीचे किस करते-करते आने लगा। अब मैं उसकी लेगिंग्स पे से ही उसकी छूट को सहला रहा था, और उसे गरम किए जा रहा था। वो बहुत तड़प रही थी, और उसकी चोट की गरमाहट ऊपर से ही समझ आ रही थी।

पर दोस्तो, मुझे शुरू से ही एक फैंटेसी थी, लड़की को तड़पा-तड़पा के किस करो और तड़पा-तड़पा के छोड़ो। इसे लड़कियों को भी बहुत मज़ा आता है, और मज़ा कई गुना बढ़ता है सेक्स में। (Nightout Sex Stories)

अब मैंने पहले उसकी लेगिंग्स में डाला, और स्मूच करते हुए ही उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चुत पर फिर लगा। तब मुझे समझ आया, कि उसकी पेंटी पूरी तरह से गीली हो चुकी थी। बस उतने में हमने भी मेरे शॉर्ट्स निकले दिए, और मेरे अंडरवियर के ऊपर से ही लंड को सहलाने लगी।

हमारा लिपलॉक तो मानो इस सब में कहीं खत्म ही ना हो रहा हो। इसके कुछ मिंटो बाद मैंने उसकी लेगिंग्स निकल दी, और अब वो सिर्फ अपनी पैंटी में मेरे नीचे लेती थी। मैं भी अपने अंडरवियर में था। अब उससे रहा नहीं जा रहा था।

फिर उसके अपने हाथ मेरी अंडरवियर में दाल के मेरे लंड पर राखे, और यकीन मानो दोस्तो एक करंट सा पूरी बॉडी में आ गया। क्योंकि पहली बार किसी लड़की ने मेरा लंड अपने हाथ में लिया था, और अब वो मेरे लंड को सहलाने लगी, और हिलाने भी लगी।(Nightout Sex Stories)

इसी बीच मैंने भी उसकी पेंटी में हाथ डाला, और अपने हाथ उसकी नांगी छूट पे फिरने लगा। उसकी चुत पूरी गीली हो चुकी थी।

दोस्तो बस आज के लिए इतना ही। अब इसके आगे की कहानी पार्ट 2 में। मैं नासिक के पास रहता हूं, तो जितनी भी लड़कियां, आंटियां और कुंवारी लड़कियां हैं, जो चुदाई करने के लिए उकसाती हैं। हां वन नाइट स्टैंड के लिए तैयार है। हां रिश्ता चाहता है। वो मुझसे संपर्क कर सकती है, मेरे ईमेल पर: [email protected] पर (सब कुछ निजी होगा)।

Escorts in Delhi

This will close in 0 seconds