कुंवारी बहन की बुर की चुदाई | Bhai Behan Sex Story

कुंवारी बहन की बुर की चुदाई | Bhai Behan Sex Story

सेक्सी बहन की बुर की चुदाई का मजा मुझे मेरी दूर की छोटी बहन ने दिया।

वह मेरे भाई की शादी के लिए हमारे घर आई थी। उसकी हरकतों से पता चल रहा था कि उसकी चूत लंड मांग रही है.

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राहुल है, मेरी उम्र 20 साल है।
मेरा लिंग 7.5 इंच लंबा और 2.5 इंच मोटा है।

यह मेरी पहली सेक्स कहानी है और मुझे उम्मीद है कि आप सभी को पसंद आएगी.

सेक्सी नंगी बहन की चुदाई कहानी मेरे और मेरी दूर की रिश्तेदार बहन शहनाज के बीच यौन संबंधों के बारे में है।

शहनाज 19 साल की है और उसका शरीर भरा हुआ था.
उसका फिगर 32-28-34 रहा होगा.

हम दोनों एक दूसरे को पहले से जानते थे, लेकिन अभी तक हमारे बीच ऐसी कोई बात नहीं थी जिससे सेक्स जैसी कोई घटना हो.

एक बार मेरे बड़े भाई की शादी हुई.
शहनाज को उस शादी में शामिल होना था.
वह शादी से 7 दिन पहले हमारे गांव आई थी.

दो साल बाद जब मैंने उसे देखा तो देखता ही रह गया क्योंकि उसका शरीर पहले से काफी भरा हुआ था।

उसे देखकर ही मैंने तय कर लिया था कि मैं अपनी बहन शहनाज को अपने लंड के नीचे लाऊंगा. सेक्सी नंगी बहन की चुदाई का मजा तो आएगा ही.

जब सब लोग घर में थे तो एक साथ कुछ भी नहीं किया जा सकता था.

औपचारिकता के तौर पर मैंने शहनाज से उसका हालचाल पूछा और उसकी पढ़ाई के बारे में बात की.
वो भी मेरे साथ सहज थी और मुस्कुरा कर मेरी बातों का जवाब दे रही थी.

अगली सुबह, मैं और मेरी बहन एक साथ थे।
घर में सभी लोग काम में व्यस्त थे तो हम दोनों लूडो खेलने लगे.

जब भी मैं शहनाज को खेलते समय पीटता तो वह बार-बार कहती- भाई, तुमने मुझे फिर मार डाला।

पहले तो मैंने उसकी इस बात को सामान्य समझा, लेकिन जब वह बार-बार यह बात कहने लगा तो धीरे-धीरे मुझे समझ आने लगा कि उसके मन में भी कुछ बात है।

हम दोनों मस्ती में एक दूसरे को छेड़ने लगे.
मेरा हाथ उसकी Big Boobs पर लग गया, जिससे वो शर्म के मारे उठकर भाग गयी.

शाम को जब वो बोर हो रही थी तो मुझसे बोली- भाई, मैं बहुत बोर हो रही हूँ, मुझे कहीं घुमाने ले चलो!
मेरी मां ने भी कहा कि हां ले ले.. थोड़ा घूम ले.

मैं पहले से ही तैयार था.
मैंने उसे बाइक पर बैठाया और हम दोनों अपने आम के बागों की तरफ घूमने चले गये.

बाइक पर उसके चूचे मेरी पीठ पर सहला रहे थे.
मैं भी जानबूझ कर गड्ढों में बाइक चला रहा था.

अचानक उसने मुझसे पूछा- भाई, आम चूसोगे?
मैंने कहा- हां क्यों नहीं.

वो बोली- तो फिर गाड़ी रोको!
बगीचे में सुनसान जगह देख कर मैंने बाइक रोक दी.

अब मैंने उससे कहा- आम खट्टे होते हैं या मीठे?
वो बोली- मुझे नहीं पता कि तुम्हें यह कैसा लगेगा… चूस कर बताओ कि खट्टा है या मीठा!

मैंने कहा- ठीक है चूसो, सब समझ आ जायेगा!
वहां वह मुझे चिढ़ाने के लिए असली आम तोड़ने के लिए कहने लगी.

मेरी खोपड़ी ने काम करना बंद कर दिया था कि ये साली आम तोड़ने को कह रही है. अच्छा हुआ कि मैंने कुछ नहीं किया, नहीं तो लेने के देने पड़ जाते।

मैंने उसकी चुचियों को देखते हुए कहा- आओ मैं तुम्हें आम तोड़ना सिखाता हूँ.
वो भी बोली- हां सिखाओ. लेकिन आम तो ऊपर लगे हैं?
मैं- हां तो मैं कहां कह रहा हूं कि वो नीचे हैं!

वह हंसने लगी।
मैं उसे आम तोड़ना सिखाने के बहाने पीछे से उसके रसीले मम्मों को मसलने लगा, जिससे वो गर्म हो गयी.

वो आहें भरते हुए अपनी Moti Gand मेरे लंड पर रगड़ने लगी तो मैं पीछे से उसकी गर्दन को चूमने लगा और उसके रसीले आमों को मसलते हुए उन पर हाथ फिराने लगा.

वो बोली- भैया यहां नहीं हैं, कोई देख लेगा.
मैंने कहा- कोई नहीं देखेगा. चलिए कुछ देर आनंद लेते हैं.

बोली- ऐसे क्या फायदा, आग लगा कर चले जाओगे.
मैंने उसके दूध मसलते हुए कहा- ऐसे क्यों चली जाओगी … तुम्हें नहीं चोदूंगा.

वो अपनी गांड मेरे लंड पर रगड़ते हुए बोली- ऐसे में ये संभव नहीं हो पाएगा.

मैंने उसकी एक चूची के निप्पल को अपनी दो उंगलियों में दबाते हुए मस्ती से कहा- तो तुम बताओ मेरी बहना, तुम मुझे ठीक से कैसे मजा दोगी?

वो मेरे गाल पर हाथ फेरते हुए बोली- जब कमरे में मुलायम बिस्तर होगा और तुम और मैं बिना कपड़ों के होंगे.. तो ठीक से Hardcore Sex करने में मजा आएगा।
मैंने कहा- ठीक है.. रात को सबके सोने के बाद तुम मेरे कमरे में आना, मैं तुम्हें वहीं नंगी कर दूँगा।

वह हंसने लगी।

फिर कुछ देर ऐसे ही मजा करने के बाद हम दोनों वापस आ गये.

उसने मुझे उस दौरान बताया था कि वो वर्जिन है उसकी बुर अभी तक कुंवारी है और अगर आज वो मुझे मिल गई तो समझ लेना कि पहली बार मुझे सीलपैक बुर का उद्घाटन करने को मिलेगा.

अब मुझसे इंतज़ार नहीं हो रहा था.
मैं पहली बार किसी कुंवारी लड़की की सील तोड़ने जा रहा था और वो भी अपनी सगी बहन की.

आख़िर बड़ी मुश्किल से रात हुई; सेक्सी बहन की Bur Chudai का मजा लेने का वक्त आ गया था.

ठीक 11 बजे वह चुपके से कमरे में दाखिल हुई.
उसके आते ही मैंने उसे गले लगा लिया और हम दोनों एक दूसरे के रसीले होंठों का रस पीने लगे.

मैंने उसे बिस्तर पर पटक दिया और उसे बेतहाशा चूमने लगा.
उस दिन उसने हल्के हरे रंग का क्रॉप टॉप और कैप्री पहन रखी थी.

मैं उसके मुँह में अपनी जीभ डाल कर उसे चूसने लगा।
वो भी बहुत कामुक होकर अपने होंठ मेरे होंठों से लड़ा रही थी.

मेरा एक हाथ उसकी गांड पर था और मैं उसकी एक गांड को मसल रहा था.
दूसरा हाथ उसकी एक चूची को चोदने में लगा हुआ था.

वो इतनी उत्तेजित हो गई थी कि मेरे दबाने से उसे अपने दूध में जरा सा भी दर्द महसूस नहीं हो रहा था.
उसके दोनों दूध सख्त हो गये थे.

कुछ देर बाद मैंने अपना चेहरा उसके पेट की तरफ कर दिया.
फिर उसके पेट को चूमते हुए उसके टॉप को उसके शरीर से अलग कर दिया और उसके संतरों को दबाने लगा।

वो आह आह करने लगी और मेरे लंड को छूने की कोशिश करने लगी.

कुछ ही देर में मैंने धीरे से उसकी कैपरी भी उतार दी.
शब्दों में वर्णन नहीं किया जा सकता कि नेवी ब्लू डिजाइनर ब्रा और ग्रे पैंटी में उसका सुडौल शरीर कितना अद्भुत लग रहा था।

कुछ देर तक उसके नमकीन हुस्न को देखकर मेरे लंड का उठान उसकी आंखों में चुभने लगा.

वो मेरे लंड को पकड़ने के लिए आगे बढ़ी और मैंने भी उसे लंड से खेलने के लिए आज़ाद कर दिया.

कुछ ही देर में हम दोनों एक दूसरे को चूमते हुए पूरे नंगे हो गये.

अब मैंने उससे लंड चूसने को कहा.


वो खुद ही तरस रही थी कि मैं उससे लंड चूसने के लिए कहूँ.

जैसे ही मैंने उससे कहा, उसने तुरंत लंड पकड़ लिया और उसके सुपारे पर अपनी जीभ फिराने लगी.

कुछ ही देर में मेरी कामुक बहन शहनाज मेरा लंड चूसने लगी.
मेरा लंड उसके गले तक जा रहा था.

दस मिनट के बाद शाहनाज़ हाँफते हुए बोली- भाई, अन्दर कैसे जायेगा, मुँह में भी नहीं आ रहा है?

मैंने कहा- मेरी प्यारी बहना, तुम वो सब मुझ पर छोड़ दो। आज मैं तुम्हें इतना प्यार करूंगा कि फिर तुम रोज मेरे पास मजे लेने आओगी.

वो फिर से लंड चूसने लगी और मेरे कहने पर उसने मेरे दोनों टट्टे भी चूसे.

अब मैंने अपनी बहन को लेटा दिया और उसकी चिकनी Pussy Licking लगा, जिससे वो गर्म हो गयी.

कुछ पल बाद वो बेचैन हो गई और बोली- आह उह आह भैया … आह आपने तो आग लगा दी. अब मुझसे रहा नहीं जाएगा. ओह… अब तुम जल्दी से अन्दर डाल दो!

मैंने पास में रखी तेल की शीशी उठाई और शहनाज़ से कहा- लंड पर तेल लगा लो.
उसने तेल लगा कर लंड को पूरी तरह से तैयार कर लिया.

लंड महाराज कुँवारी बहन शहनाज़ की चूत को भेदने के लिए तैयार थे.

मैंने भी अपनी बहन की चूत को तेल से गीला कर दिया, ताकि लंड को अन्दर जाने में कोई दिक्कत न हो.

फिर एक तकिया मोड़ कर शहनाज़ की कमर के नीचे रखा और लंड को चूत पर सैट कर दिया.
अब मैंने शहनाज़ से कहा- थोड़ा दर्द होगा मेरी रंडी बहन… सहन कर लेना!

शहनाज़ ने नशीली आवाज में कहा- बहन के भाई … चिंता मत कर. आज रात तुम मुझे बस अपनी रांड बना लो. मैं सिर्फ तुम्हारी हूँ, जैसे चाहो मुझे चोदो।

उसकी ऐसी कामुक बातें सुनकर मेरा लंड जोश में आ गया और मैंने एक ही झटके में लंड अन्दर पेल दिया.
मेरा कड़क लंड मेरी बहन की Tight Chut को फाड़ता हुआ 3 इंच अंदर घुस गया.

बहन की चीख निकल गयी.
उसकी आँखों से आँसू निकलने लगे और वो चिल्लाने लगी- आआह फाड़ दी मेरी… धीरे करो आआह उई माँ मर गई!

मैंने शेहनाज की चीख को दबाने के लिए उसके रसीले होंठों पर अपने होंठ रख दिए और 5 मिनट तक ऐसे ही पड़ा रहा.

कुछ देर बाद बहन मस्ती में आ गई और अपनी गांड हिलाने लगी. मैं समझ गया कि ये साली पूरा लंड अन्दर लेने के लिए तैयार है.

मैंने एक और झटका मारा और इस बार लंड चूत को फाड़ता हुआ पूरा अन्दर घुस गया.
बहन एक बार फिर कामुक सिसकारियां लेने लगी- आआह … आराम से चोद अपनी बहन को … फाड़ दी तुमने मुझे … साले आ आराम से Bur Chudai कर प्लीज।

मैंने बहन की बात अनसुनी करते हुए लंड पेलना जारी रखा और कहा- साली… रंडी बहन की लौड़ी… तू तो लंड खड़ा करके खुद को निमंत्रण दे रही थी, अब ले मादरचोद!
ये कह कर मैं अपना मूसल लंड पेलता रहा.

सेक्स के दौरान मैं कभी उसकी चूची को मुँह में लेकर काट लेता तो कभी उसकी गांड को सहलाते हुए थप्पड़ मार देता.

बहन की चीखें अब मादक सिसकारियों में बदल गयी थीं.
वो अब जोश में आकर गालियाँ दे रही थी- चोद साले… मुझे पागल कर दे, चोद मुझे… आअहह इतना मजा मुझे आज तक नहीं आया भाई… बना दे अपनी बहन को रंडी… उह्ह्ह आम्म्म आह्ह्ह्ह करते रहो भाई.

मैंने अपनी बहन को 35 मिनट तक चोदा.
इस बीच वो 4 बार झड़ी और उसके बाद मैं भी अपनी बहन के अन्दर ही झड़ गया.

उस रात मैंने अपनी बहन को 7 बार चोदा और अब जब भी मौका मिलता है, मैं उसे चोदता हूँ।

अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा कि कैसे मैंने उसकी मदद से उसकी चाची की लड़की को चोदा.

मुझे उम्मीद है दोस्तो, आपको मेरी सेक्सी नंगी बहन की चुदाई कहानी पसंद आयी होगी.
यदि कोई गलती हो तो क्षमा करें.
जल्द ही अगली कहानी में मिलते हैं.

Mumbai Call Girls

This will close in 0 seconds