ट्यूशन में मिली कामुक लड़की को चोदा और उसे चरमसुख का आनंद दिया

ट्यूशन में मिली कामुक लड़की को चोदा और उसे चरमसुख का आनंद दिया

आज की हिंदी सेक्स कहानी है “ट्यूशन में मिली कामुक लड़की को चोदा और उसे चरमसुख का आनंद दिया” इस कहानी को पढ़ने के बाद आप अपना लंड हिलाने से नहीं रोक पाएंगे।

हेलो दोस्तों, मेरा नाम मोहित है। यह कहानी मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड के बीच की है।

मैं बैंगलोर में रहता हूं और मैंने इंजीनियरिंग की है। हालाँकि मेरा कॉलेज प्राइवेट था लेकिन मुझे एक बहुत बड़ी कंपनी में नौकरी मिल गयी।

मैं एक अच्छे शरीर का मालिक हूं और मेरा लंड भी मेरी तरह मजबूत है। मैंने इसे खड़े होकर नापा है और यह साढ़े 6 इंच का है। मैं किसी भी युवा की योनि को सेक्स करके संतुष्ट कर सकता हूं।

इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी होने के बाद मुझे कहीं नौकरी नहीं मिली.. तो मैं घर चला आया। वहां मैंने सरकारी नौकरी की तैयारी शुरू कर दी। मैंने एक अच्छी कोचिंग क्लास ज्वाइन कर ली। वहां एक नई लड़की पूनम नाम की आई थी। वो भी क्लास में नई थी और मैं भी नया था।

शुरुआत में हम दोनों में बात नहीं होती थी। लेकिन जब मैं रोज क्लास जाने लगा तो मेरी नजर सब पर जाने लगी। पूनम को मुझसे पहली नजर में ही प्यार हो गया था।

मैं बहाने से हर रोज उसे चोर नजरों से देखता रहता था। कई बार मेरी नजर उससे मिल जाती थी और फिर मैं अपनी नजर हटा लेता था। ये बात वो कई बार नोटिस कर चुकी थी।

मेरी तर्कशक्ति और गणित बहुत अच्छी थी इसलिए धीरे-धीरे मैंने क्लास टीचर और सबका दिल जीत लिया। इससे पूनम का दिल मुझ पर आ गया।

एक दिन मैं रोज की तरह क्लास में प्रैक्टिस का काम कर रहा था, तभी वो भी आ गयी। हमारे बीच बातचीत शुरू हो गई। साधारण परिचय के बाद हम दोस्त बन गये।

फिर उसने और मैंने व्हाट्सएप नंबर शेयर किए। अब हम दोनों रोज चैट पर बातें करने लगे। कुछ दिनों की चैट के बाद मुझे लगा कि वह मुझमें ज्यादा दिलचस्पी ले रही है। (कामुक लड़की को चोदा)

मैं रोज क्लास में जल्दी जाता था तो वो क्लास भी जल्दी आ जाती थी। क्लास शुरू होने से पहले हम दोनों एक दूसरे से खूब बातें करने लगे।

इसी बीच एक और लड़की कोचिंग के कैश काउंटर पर बैठती थी, उसका नाम कृतिका था। वह मुझे बहुत घूरकर देखती थी।

वो मुझे और पूनम को एक साथ देख कर बहुत जलती थी। मुझे नहीं पता कि उसके मन में क्या था, लेकिन वह हमें खूब टोकती थी।’

पूनम ने भी इंजीनियरिंग की थी इसलिए हम दोनों बराबर थे, हम्हारे बीच बहुत मुकाबला था।

एक बार क्लास के एक सदस्य ने सरकारी परीक्षा उत्तीर्ण की, हमारे शिक्षक ने रात को एक बहुत अच्छे होटल में डिनर पार्टी दी, वह होटल शहर से थोड़ा बाहर था।

पूनम अपनी स्कूटी से आई थी। लेकिन डिनर के बाद घर जाने के वक्त उसकी स्कूटी स्टार्ट नहीं हुई। उसने मुझसे मदद मांगी तो मैंने बहुत कोशिश की, लेकिन स्कूटी स्टार्ट नहीं हुई।

फिर मैंने उससे कहा कि तुम गाड़ी यहीं होटल की पार्किंग में छोड़ दो और मेरे साथ आओ, मैं तुम्हें घर छोड़ दूंगा।

दोस्तो, कह नहीं सकता कि मौसम क्या बनने लगा था। लेकिन रात को एक जवान लड़की का साथ पाकर मैं थोड़ा उत्तेजित होने लगा। वो मेरी बाइक पर बिल्कुल मेरे पीछे चिपक कर बैठी थी।

फिर उसने एक सुनसान जगह पर बाइक रोकने को कहा।

मैंने गाड़ी रोकी और पूछा- क्या हुआ?

वो बोली- मैं जल्दी घर नहीं जाना चाहती, चलो कुछ देर और यहीं रुक जाते हैं।

मुझे समझ नहीं आता कि उसके मन में क्या है।

उसने कहा- मोहित, मौसम बहुत अच्छा है।

मैंने कहा- हां ये तो है। (कामुक लड़की को चोदा)

उसने कहा- क्या तुम्हारी कोई जीएफ है?

मैंने कहा- अगर वो होती तो क्या तुम मेरे साथ होती?

उसने तुरंत मुझे ‘आई लव यू…’ कहा।

मैंने उसकी तरफ बड़े प्यार से देखा तो वो फिर बोली- क्या तुम मुझसे प्यार करते हो?

मैंने उसके हाथ को चूमा और उससे कहा- हां मैं भी तुमसे प्यार करता हूं।

ये सुनते ही उसने मुझे गले लगा लिया। मैंने उसे अपनी पूरी ताकत से गले लगा लिया। तो उन्होंने भी मेरा साथ दिया।

क्या बताऊं, उनकी बॉडी बॉलीवुड की कृति सेनन जैसी लग रही थी। वो भरे हुए बदन वाली एक अल्हड़ कमसिन माल लग रही थी।

जब मैंने उसे गले लगाया और दबाया तो मजा आ गया। मैं उस पल की ख़ुशी का वर्णन नहीं कर सकता।

हॉट लड़कियां सस्ते रेट में इन जगह पर बुक करें :

फिर मैंने उसे धीरे से किस किया तो वो भी मेरा साथ देने लगी। इधर मेरा लंड मेरी जींस में तना हुआ हो रहा था। जिसे वह अपने पेट में भी महसूस कर रही थी।

मैंने अपना एक हाथ उसकी ब्रा में डाल दिया। आह, क्या मुलायम मुलायम स्तन थे। मुझे बहुत मज़ा आया।

फिर उसने कहा- क्या ये सब सड़क पर ही करोगे?

मैं खुद को संभालते हुए वहीं रुक गया। इस समय उसे अपने घर छोड़ देना ही उचित लगा। मैंने उसे उसके घर छोड़ दिया। मैं भी घर आ गया।

उस रात मैंने उससे रात के दो बजे तक व्हाट्सएप सेक्स चैट की फिर मैंने फोन सेक्स से उसका पानी निकाला और मुठ मार कर अपने लंड को ठंडा किया। फिर मुझे नींद आ गयी।

अगले दिन हम कोचिंग में जल्दी मिले। मैं फिर से शुरू हुआ, लेकिन कृतिका ने देख लिया था इसलिए हमने खुद पर काबू रखा।

दो दिन बाद पूनम का फोन आया- आज मेरे घर पर कोई नहीं है, तुम मेरे घर आ जाओ।

मानो मेरी लॉटरी लग गयी हो। (कामुक लड़की को चोदा)

मैं उसके घर गया और अन्दर जाते ही दरवाजा बंद करके उसे चूमने लगा। कुछ ही देर में मैंने उसकी टी-शर्ट और लोअर उतार दिया। उस दिन वो पर्पल ब्रा और पैंटी में थी।

मैंने भी अपनी जींस और टी-शर्ट उतार दी। उसके बाद उसकी ब्रा उतारकर उसके मम्मों को मुँह में लेकर चूसने लगा। वो गर्म गर्म सिसकारियां ले रही थी।

पांच मिनट तक उसके मम्मों को सहलाने के बाद मैंने उसकी पैंटी उतार दी और उसकी चूत दिखा दी। उसकी चूत बहुत चिकनी थी। एक भी बाल नहीं था। ऐसा लग रहा था जैसे उसने आज ही अपनी चूत साफ़ की हो।

मैंने एक पल की भी देर किए बिना उसकी चूत को चूमना शुरू कर दिया। उसमें से मादक कौमार्य रस की गंध आ रही थी। मैं कुछ देर तक उसकी चूत चाटता रहा। कुछ ही पल बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया।

अब मैंने उससे लंड चूसने को कहा तो उसने पहले तो मना कर दिया लेकिन मेरे जोर देने पर वो मान गई और लंड को सहलाते हुए धीरे-धीरे चूमने लगी। फिर वो पूरे लंड को अच्छे से चूसने लगी।

कुछ ही देर में मेरा लंड बहुत टाइट हो गया। मैं उसकी दोनों टांगों के बीच आ गया और अपना लंड उसकी चूत में डालने लगा।

एक दो बार कोशिश की लेकिन लंड फिसलता ही रहा। ये उसका भी पहली बार था। मैंने कमर पकड़ कर लंड को फिर से चूत पर सैट किया और एक झटका दिया।

इस बार मेरा लंड उसकी कुंवारी चूत को फाड़ता हुआ आधा अन्दर चला गया। वो दर्द से चिल्लाई.. लेकिन उसकी आवाज़ दबी रह गई क्योंकि मेरा मुँह उसके मुँह के करीब था।

थोड़ी देर बाद मैंने धीरे धीरे धक्के लगाना शुरू कर दिया। अब उसे भी मजा आने लगा। वो बस ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ करके मजा ले रही थी। मैं फुल स्पीड से उसे चोदे जा रहा था।

तभी वो कुछ ज्यादा ही गर्म हो गई और बोली- आह.. और तेज़ करो.. फाड़ दो मेरी चूत.. हाँ हाँ ओह हाँ.. मैं भी लगातार चोदे जा रहा था। करीब आधे घंटे तक उसे ऐसे ही चोदा। इस दौरान वो दो बार झाड़ चुकी थी।

उसके बाद मैंने उसे घोड़ी बनाकर चोदा। मैंने पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और तेजी से उसे चोदने लगा।

जब भी मेरा पूरा लंड उसकी चूत के अंदर जाता, उसकी बच्चेदानी से टकराता, तो उसकी आवाज आती ‘आह हूं… म्म्म्म्म ओह मिंटू मुझे तेजी से चोदो आह आह… इस्स हम्म्म…।’

जब हम दोनों एक साथ झड़ने वाले थे तो उसने कहा- मैं भी आने वाली हूँ.. मेरा भी होने वाला है।

मैंने भी कहा- आजा मेरी जान.. मैं भी आ रहा हूँ.. बताओ माल कहाँ छोड़ूँ?

वो बोली- ये मेरा पहली बार है.. तुम अन्दर ही छोड़ दो।

मैंने अपने लंड का गर्म लावा उसकी चूत में भर दिया। (कामुक लड़की को चोदा)

झड़ने के बाद हम दोनों ऐसे ही नंगे पड़े रहे। वो उठकर बाथरूम जाने लगी तो उससे चला नहीं गया। वह लंगड़ा कर चल रही थी।

मैंने उसका समर्थन किया। हम दोनों एक साथ बाथरूम में गये। उधर फव्वारे के नीचे हम दोनों ने फिर एक राउंड खेला।

कोई 3 घंटे बाद मैं अपने घर आ गया। इसके बाद जब भी हम दोनों का मन होता तो हम कई जगहें ढूंढते और खूब सेक्स करते।

दोस्तो, यह थी मेरी सच्ची सेक्स कहानी जो मेरे साथ घटी। अब पूनम की शादी हो गयी है और मुझे बैंगलोर में नौकरी मिल गयी है। यहां मैं एक फ्लैट में अकेला रहता हूं।

कहानी कैसी लगी जरूर बताइएगा। मुझे आपके मेल और टिप्पणियों का इंतजार रहेगा।

तो दोस्तो, आपको मेरी यह चुदाई की कहानी कैसी लगी, जरूर बताएं।

अगर आपको यह कामुक लड़की को चोदा कहानी पसंद आई तो हमें कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं।

यदि आप ऐसी और चुदाई की सेक्सी कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “Wildfantasy.in” पर पढ़ सकते हैं।

Mumbai Call Girls

This will close in 0 seconds