दोस्त की एक्स गर्लफ्रेंड को चोदा – हॉट लड़की XXX कहानी भाग 2

दोस्त की एक्स गर्लफ्रेंड को चोदा – हॉट लड़की XXX कहानी भाग 2

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “दोस्त की एक्स गर्लफ्रेंड को चोदा – हॉट लड़की XXX कहानी भाग 2”। यह कहानी चेतन की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

हॉट लड़की XXX कहानी में मैंने यही बताया है कि मेरा पहला सेक्स कैसे हुआ. वो मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड थी, उससे खूब चुदाई करवाती थी. उससे मेरी दोस्ती हो गई और बात सेक्स तक पहुंच गई.

दोस्तो, मेरी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत है।
कहानी के पहले भाग: हॉट लड़की XXX कहानी में अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने फातिमा को अपने शहर आने के लिए कहा था. वह भी मान गयी.

अब आगे की हॉट लड़की XXX कहानी:

शनिवार का दिन था।
मैं सुबह से ही अपनी झांटे साफ़ करके फातिमा के आने का इंतज़ार कर रहा था.

यही सोच कर मैंने एक बार अपने लंड को छुआ तो मैं अपने आप पर काबू नहीं रख सका और मैंने उसे हिलाकर उसका पानी निकाल दिया. (हॉट लड़की XXX कहानी)

उसे शाम सात बजे पहुंचना था इसलिए मैं आधा घंटा पहले ही बस स्टैंड पर पहुंच गया.
करीब साढ़े सात बजे जब वह बस से उतरी तो काफी थकी हुई लग रही थी।

मैं उसे एक रेस्टोरेंट में ले गया और वहां कुछ नाश्ता किया।
मैंने वहां से दो लोगों के लिए खाना भी पैक करवाया.

करीब साढ़े आठ बजे हम दोनों रिक्शा लेकर अपने दोस्त के कमरे की ओर चल दिये।
हॉस्टल पहुँच कर मैंने फातिमा को फ्रेश होने को कहा.

जब वो फ्रेश होकर बाहर आई तो उसने टी-शर्ट और लोअर पहना हुआ था.
इन कपड़ों में उसके स्तनों और गांड का आकार पूरी तरह से दिखाई दे रहा था।
उसके तने हुए Big Boobs देख कर मेरा लंड एकदम टाइट हो गया.

फातिमा ने भी मजे मजे में अपनी टी-शर्ट ऊपर उठाई और अपने स्तन दिखाए।
उसके नंगे स्तन देख कर मैं अपने आप को रोक नहीं सका और आगे बढ़ कर उसके स्तन दबा दिये।
वह कराह उठी।

उसका व्यवहार देखकर मैंने उसे अपने पास वाली खाट पर पटक दिया और उसके खूबसूरत 34 साइज़ के स्तनों को दबाने और चूसने लगा।

फातिमा की चुदास भी बढ़ गयी थी.
वो अपने मम्मे दबवाते हुए जोर-जोर से कराहने और बड़बड़ाने लगी.

फातिमा- आह्ह मेरी जान, मेरे मम्मों को कुचल दो … खा जाओ इन्हें.
मैं: अरे डार्लंड, तुम्हारे स्तन बहुत अच्छे हैं. आज मैं इन्हें दबाऊंगा और चूसूंगा.
फातिमा- तो फिर जोर से दबाओ … और चूसो.

इधर मेरा लंड भी मेरी पैंट में सख्त होकर जाँघों पर रगड़ खा रहा था।
उसने अपने हाथ से मेरा लंड पकड़ लिया और जोर जोर से दबाने लगी.

Fatima की साँसें गहरी होने लगीं.
वो बीच-बीच में ‘सी…सी इस्स…’ की आवाजें निकालने लगी।

मैंने मौका देख कर उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और चूसने लगा.
वो भी मेरा पूरा साथ देने लगी.

कुछ मिनटों के बाद जब हमारी सांसें फूल गईं तो हमने एक-दूसरे के होंठ छोड़े और मैंने उसके गालों को चूमना शुरू कर दिया।

मैं अपने हाथ से उसके पेट और नाभि को सहलाने लगा और उसकी लोअर के ऊपर से उसकी चूत की मालिश करने लगा। वो लगातार ‘सीई…ईई…आह…उम्म्म…इस्स्स…’ की मादक आवाजें निकाल रही थी।

अब मैंने उसे उठाया और उसका लोअर और टी-शर्ट दोनों उतार कर फेंक दिया.
वो मेरे सामने सिर्फ काली पैंटी में थी. (हॉट लड़की XXX कहानी)

उसका गोरा बदन उस काले रंग में संगमरमर के पत्थर की तरह चमक रहा था।
मैंने अपनी दोनों टाँगें फैला दीं और अपने हाथों से उसका सिर पकड़ कर अपने लंड की ओर कर दिया।

मैंने फातिमा से कहा- प्रिये, इसे मुक्त करो।

फातिमा ने मेरी पैंट का बटन खोला और ज़िप नीचे खींच कर मेरे कूल्हों से पकड़ कर मेरी पैंट को अंडरवियर समेत नीचे खींच दिया.

मेरा फनफनाता हुआ लंड आज़ाद होकर ऊपर की ओर फड़फड़ा रहा था।
उसने अपने मुलायम हाथों से मेरे लंड को सहलाया.

आह्ह … उसके स्पर्श से ही मैं सातवें आसमान पर पहुंच गया.
फिर मैंने अपना लंड उसके होंठों पर रखा, तो उसने अपना मुँह खोला और अपनी जीभ से मेरे गर्म लंड के सिरे को चाटने लगी।

उसने अपनी गर्म जीभ से मेरे लंड के सिरे को ऊपर से नीचे तक दो-तीन बार चाटा।

अब कराहने की बारी मेरी थी.

उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी.
मेरे मुँह से आह… निकलने लगा.

सच में लंड चुसवाने में बहुत मजा आ रहा था, स्वर्ग जैसा अनुभव हो रहा था.
पहली बार मेरे लंड को छेद का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

कसम से दोस्तो, वो पूरे मन से लंड मुँह में ले रही थी. मैं बता नहीं सकता कि मुझे कितना मज़ा आ रहा था, मुझे ऐसा लग रहा था जैसे वो ऐसे ही मेरे लंड को अपनी जीभ से चूसती रहे।

मैं- आह्ह डार्लंड … ईईई मेरे लंड को और जोर से चूसो प्लीज़ … आह्ह खा जाओ मेरे लंड को … चबा जाओ इसे.

मैंने धीरे-धीरे अपना लंड उसके मुँह में अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया और अपने दोनों हाथों से फातिमा के गालों की मालिश कर रहा था।

उसे भी जन्नत का मजा मिल रहा था.

फिर मैंने उससे कहा- फातिमा, मेरा पूरा लंड अपने मुँह में भर लो और जोर से चूसो.
मैंने उसका सिर पकड़ कर अपने लंड पर जोर से दबा दिया.

फिर फातिमा ने मेरे दोनों कूल्हों को ज़ोर से पकड़ लिया और उन्हें अपने मुँह की ओर खींचने लगी जैसे कि वह मेरे लंड को पूरा खा जाना चाहती हो। (हॉट लड़की XXX कहानी)

मैंने अपने धक्को की स्पीड बढ़ा दी और उसके मुँह को अपने लंड से चोदने लगा.

क्योंकि यह मेरा पहली बार था, मैं झड़ने वाला था।
मैंने जबरदस्ती उसके मुँह से लंड बाहर निकाला और फिर लंड ने अपनी पिचकारी छोड़ दी.
मुझे वाकई मज़ा आया।

इसके बाद वो बाथरूम में चली गयी और मैं आराम करने लगा.

जब वो बाथरूम से आकर मेरे बगल में लेट गई तो अपने हाथों से मम्मों को छेड़ने लगी.
बीच-बीच में वो मेरे लंड को भी सहला देती थी.

कुछ देर बाद मेरा लंड फिर से अकड़ने लगा.
अब मैं उसके ऊपर चढ़ गया.

मैंने उसके गोल, सुंदर स्तन अपने हाथों में पकड़ लिए और एक को अपने मुँह में डाल लिया और चूसने लगा।

फातिमा ‘सी…सी…आह…आह…’ की आवाजें निकाल रही थी।
दोनों मम्मों को दबाते और चूसते हुए मैंने अपना एक हाथ फातिमा की Tight Chut पर रख दिया.

वो एकदम से सिहर उठी और आहें भरने लगी.
उसकी चूत पानी छोड़ रही थी और गर्म भट्टी की तरह तप रही थी.

फातिमा की नाभि को अपनी जीभ से चाटते हुए मैं अपनी जीभ उसकी गर्म चूत पर ले आया और धीरे-धीरे उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को चाटने लगा। उसकी पैंटी पूरी गीली हो चुकी थी. (हॉट लड़की XXX कहानी)

मैंने उसकी पैंटी भी उतार दी. कसम से उसकी चूत बहुत फूली हुई और साफ़ थी.
जब मैंने अपना मुँह उसकी चूत पर रखा तो उसकी अद्भुत खुशबू से मैं पागल होने लगा।

मैंने थोड़ी देर तक चूत को अपनी जीभ से चाटा.
फिर अपनी जीभ चूत की दोनों फांकों के बीच डाली और क्लिटोरिस को सहलाने लगा.

फातिमा अपने हाथों से मेरा सिर अपनी चूत पर दबाने लगी. वह पागल हो रही थी.
बीच-बीच में वो अपनी चूत उठा कर मेरे मुँह पर रगड़ देती थी.

वह लगातार ‘सी…सी…इस्स…आह…आह…’ की आवाजें निकाल रही थी।

कुछ मिनट बाद फातिमा अकड़ गई और उसने मेरा चेहरा अपनी जांघों के बीच दबा लिया और मेरे सिर को जोर से अपनी चूत पर दबा दिया.

मैं भी लगातार चूत चाटता रहा.
वह अचानक मेरे चेहरे पर ‘आह… आह… उम्म…’ करते हुए झड़ गई।

मैं उसका नमकीन रस चाटने लगा, थोड़ा सा तो मैंने चाट लिया लेकिन बाकी मुझसे नहीं चाटा, इसलिए मैं हट गया.
कुछ पल बाद मैंने फिर से फातिमा की चूत को चाटना शुरू कर दिया. वो फिर से उत्तेजित होने लगी.

अब मुझसे भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था. मैं जल्दी से फातिमा की चूत में अपना लंड डालना चाहता था. लेकिन मैं पहली बार सारा मज़ा लेना चाहता था, इसलिए मैंने फातिमा के बड़े स्तनों के बीच अपना लंड रगड़ना शुरू कर दिया।

फातिमा पहले से ही अनुभवी थी इसलिए उसने अपने दोनों स्तनों को अपने हाथों से साइड से दबाया।
जब मेरा लंड ऊपर जाता तो फातिमा उसे अपनी जीभ से चाटने की कोशिश करती. मुझे बहुत मजा आ रहा था.

कुछ देर बाद फातिमा कराहते हुए मुझे नीचे की ओर धकेलने लगी. (हॉट लड़की XXX कहानी)
मैं भी बहुत उत्तेजित हो गया था इसलिए मैंने अपना लंड उसके स्तनों से हटा लिया और नीचे आ गया।

मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके स्तनों को अपने हाथों से दबाने लगा और उसके होंठों को चूसने लगा।
इधर उसने मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और अपनी चूत के पास रगड़ने लगी.

उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने से मेरा लंड और भी खड़ा हो गया.

मैंने उसके होंठों को अपने होंठों पर रख लिया और उसके खूबसूरत स्तनों को अपनी हथेलियों से मसलना शुरू कर दिया। वो मजे से कराहने लगी.

जैसे ही मेरा लंड उसकी चुत के छेद के पास पहुंचा, उसने नीचे से अपनी गांड उठा कर लंड को अपनी चुत में ले लिया. जैसे ही लंड चूत में घुसा, मुझे 440 वोल्ट का झटका लगा.

मैंने उसके होंठ चूसना बंद कर दिया और उसे पकड़ कर अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया.

उसने भी अपनी Moti Gand उठा दी और अपने दोनों पैर मेरी कमर के पीछे चिपका दिये.
मुझे इतना मजा आया कि मेरे मुँह से जोर से कराह निकल गयी.

मैं धीरे धीरे उसकी चूत में धक्के लगाने लगा.
वो भी अपनी गांड उठा उठा कर लंड को अपनी चूत में डलवाने लगी.

फातिमा मस्ती में बड़बड़ाने लगी- आह डार्लंड, फाड़ दो मेरी चूत … मैंने तुम्हारे लंड का बहुत इंतज़ार किया है.

जैसे ही मैं अपना लंड उसकी चूत में डालता, वो अपनी गांड उठा देती और लंड को अपनी चूत में दबाने की कोशिश करती. उसे चोदते समय मैं उसके मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा. (हॉट लड़की XXX कहानी)

मुझे Chut Chudai करने में इतना मजा आ रहा था कि मैं आपको शब्दों में बता नहीं सकता.

करीब पांच मिनट की चुदाई के बाद उसने अपनी कमर उठाई और मेरे लंड को अपनी चूत में पूरा फंसा लिया.
उसका ये व्यवहार देख कर मैं और जोर से उसकी चूत में अपना लंड पेलने लगा.

तभी मुझे अपने लंड पर उसकी चूत का ज़ोरदार दबाव महसूस हुआ. ऐसा लगने लगा मानो किसी ने मेरा लंड पकड़ लिया हो।

उसने मेरी गांड को अपने हाथों से पकड़ लिया और जोर जोर से अपनी चूत की तरफ दबाने लगी. उसकी इस हरकत से मेरे लंड से पिचकारी निकलने लगी. मैंने उससे कहा कि मैं झड़ने वाला हूं।

ये कह कर मैं अपना लंड बाहर निकालने लगा क्योंकि मैंने कंडोम नहीं पहना था.

वो कराहते हुए बोली- मैं अपनी चूत में लंड की पिचकारी महसूस करना चाहती हूँ. मुझे और ज़ोर से चोद दो…आआह उम्म्ह अहह…हाँ हाँ हाँ हाँ येस्स्स। (हॉट लड़की XXX कहानी)

मैं समझ गया कि उसे माल का मजा लेना है.

अब मैं हिम्मत करके उसे और ज़ोर से मसलने लगा और चोदने लगा।
उसने मुझे कस कर पकड़ लिया और जोर जोर से चिल्लाने लगी.

फातिमा- आह … मेरी चूत फाड दो … मैं इतने दिनों से इसके लिए तरस रही हूं … अपना लंड डालो … आह बहुत मजा आ रहा है चोदो … आह.

मैं भी पूरे जोश के साथ उसे चोदता रहा.
फिर फातिमा चिल्लाने लगी और झड़ने लगी और उसने मुझे कसकर पकड़ लिया।
फिर मेरे लंड ने भी अपना लावा उगलना शुरू कर दिया.

फातिमा ने मुझे इतनी ज़ोर से पकड़ रखा था कि मैं अपने लंड को आगे-पीछे नहीं कर पा रहा था।
मैंने उसके स्तनों को पकड़ कर खूब जोर से दबाया और अपने लंड को और जोर से आगे पीछे करने लगा.

हम दोनों काफी देर तक झड़ते रहे और उस पल का आनंद महसूस करते रहे. झड़ने के बाद मैं उसके ऊपर ऐसे ही लेटा रहा. वह इतनी जोर-जोर से सांस भी ले रही थी कि ऐसा लग रहा था जैसे वह बहुत दूर से दौड़कर आई हो।

मेरी पहली चुदाई के बाद हम दोनों काफी देर तक ऐसे ही लेटे रहे.
कुछ देर बाद हम दोनों ने खाना खाया और एक दूसरे से चिपक कर लेट गये.

उस रात मैंने उसे तीन बार चोदा. मैं भी उसकी मस्त बड़ी गांड को चोदना चाहता था लेकिन उसने किसी और दिन के लिए कहा। (हॉट लड़की XXX कहानी)

सुबह मैंने उसे उसके शहर जाने वाली बस में बैठाया.

इसके बाद वह मुझसे रोजाना बात करने लगी. मैं उसे महीने में 2-3 बार ही चोदता था.
बाद में मैंने उसकी गांड भी मारी. (हॉट लड़की XXX कहानी)

इसके बाद कॉलेज खत्म होते ही मुझे नौकरी मिल गई।
मैंने उसे एक बार बुलाया और तीन दिन तक चोदा.

कुछ दिन बाद उसकी शादी हो गयी और मेरा भी ट्रांसफर दूसरी जगह हो गया. दोस्तों फातिमा ने मुझे लड़कियों के बारे में बहुत सारी बातें बताई थी जिससे मेरा आत्मविश्वास बहुत बढ़ गया था।

फातिमा से मिले अनुभवों के कारण मैं जहाँ भी रहा, मुझे कभी भी चूतों की कमी नहीं हुई।

तो दोस्तो, आपको मेरी हॉट लड़की XXX कहानी कैसी लगी?
कृपया मुझे मेल करें ताकि मैं अपने बाद के अनुभव आप सभी के साथ साझा कर सकूं।

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “wildfantasystory.com” की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Mumbai Call Girls

This will close in 0 seconds