बारिश के मौसम में भाभी की ताबड़तोड़ चुदाई – हॉट भाभी XXX स्टोरी

बारिश के मौसम में भाभी की ताबड़तोड़ चुदाई – हॉट भाभी XXX स्टोरी

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “बारिश के मौसम में भाभी की ताबड़तोड़ चुदाई – हॉट भाभी XXX स्टोरी”। यह कहानी सलमान की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

मेरी सगी भाभी के साथ हॉट भाभी XXX स्टोरी. जब भाई बाहर काम करता है तो भाभी की चूत में लंड की कमी होती है. एक बार मैं और मेरी भाभी घर पर अकेले थे.

दोस्त, मेरा नाम सलमान है, मैं मुजफ्फरनगर का रहने वाला हूँ।
मेरी उम्र 23 साल है, दिखने में ठीक ठाक हूँ। मेरा लंड 5 इंच का है और मैं चूत का बहुत शौकीन हूं.
मेरे घर पर माता-पिता, भाई और भाभी हैं।

ये हॉट भाभी XXX स्टोरी एक साल पहले की है.

मेरी भाभी का नाम Azra है, उनकी उम्र 26 साल है।

भाभी बहुत खूबसूरत हैं. उसके स्तन काफी बड़े हैं और गांड उभरी हुई है.
भाभी सच में एकदम पटाखा लगती हैं.

मेरा बड़ा भाई पुणे में काम करता है.

उस दिन मम्मी और पापा किसी काम से चार दिन के लिए बाहर गये थे.
उस वक्त घर पर मैं और मेरी भाभी ही बचे थे.

बरसात का मौसम था, कपड़े छत पर सुख रहे थे।
तभी बारिश शुरू हो गई, भाभी कपड़े लेने छत पर चली गई और जब तक नीचे आई, पूरी भीग गई थी।

उसके बालों से पानी की बूंदें टपक रही थीं.
कपड़े रखने के बाद वह अपने कपड़े बदलने चली गयी.

कुछ देर बाद भाभी मेरे कमरे में आईं और बोलीं- सलमान, मुझे सर्दी और बुखार हो रहा है.

मैंने देखा कि बाहर अभी भी तेज़ बारिश हो रही थी और उस समय कोई डॉक्टर भी उपलब्ध नहीं था, इसलिए मैंने उसे घर पर रखी पैरासिटामोल दवा दी और कमरे में सोने के लिए कहा।

कुछ देर बाद मैं भाभी से मिलने गया.
मैंने उसकी तरफ देखा तो पाया कि उसे ठंड ज्यादा लग रही थी और कांप रही थी.

मैंने जल्दी से चाय बनाई और उसे गर्म चाय दी.
चाय पीने के बाद भी उसे राहत नहीं मिली तो मैं उसके हाथ मलने लगा.

कुछ देर बाद उसने अपनी आंखें बंद कर लीं और सो गई.
लेकिन उसका शरीर अब भी कांप रहा था.

मैं अभी भी अपने हाथ से उसकी हथेली को रगड़ रहा था. तभी भाभी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझे अपने पास लेटने का इशारा किया. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

मैं उसके करीब लेट गया और उसके बालों को सहलाने लगा. उसके गालों को चूमने लगा.
उसके मुँह से गर्म हवा निकल रही थी.

वो मैक्सी पहन कर लेटी हुई थी.
वह पलट गई और अपने पैरों को मेरे पैरों पर लपेट लिया।

मैंने भी उसे अपनी बांहों में ले लिया और उसकी ठंड दूर करने की कोशिश करने लगा.

एक तरह से यह आग और भूसे का मिलन था.
मेरी छाती पर भाभी के Big Boobs मुझे उत्तेजित करने लगे थे.

मैं अपने आप पर काबू नहीं रख सका और मैंने अपना एक हाथ उसकी टांगों के बीच रख दिया।

उसने भी अपने हाथ से मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूत पर रख दिया.
मैं भाभी की चूत को सहलाने लगा.

कुछ देर बाद अज़रा भाभी मेरा साथ देने लगीं.
मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके होंठों को चूमने लगा.

कुछ देर बाद वो भी जोश में आ गयी और मुझे चूमने लगी.
इससे उसकी ठंड ख़त्म हो गयी और अब उसे मज़ा आने लगा.

मैंने उसकी मैक्सी उतार कर एक तरफ रख दी और उसका एक स्तन मुँह में ले लिया और चूसने लगा।

हॉट भाभी मेरा साथ देने लगीं.
उसने मुझे अपने ऊपर से हटाया और अपना मुँह नीचे कर दिया और 69 में आ गयी.

मैं भाभी की चूत को चूसने लगा.
उसकी चूत का गरम पानी बहुत स्वादिष्ट था.

भाभी अपनी चूत चुसवाने से और भी गर्म हो गईं और अपनी चूत मेरे मुँह पर रगड़ने लगीं.

मैं भाभी की चूत में उंगली करने लगा तो वो आहें भरने लगीं.
भाभी ‘उई…उई अम्मी…ओह्ह अम्मी आह..’ चिल्ला रही थीं।

मैं सीधा हुआ और अपना लंड उसकी Tight Chut में डाल दिया.

वो भी मेरा साथ दे रही थी और देखते ही देखते उसकी चूत से आने वाली आवाज पूरे कमरे में गूंजने लगी.
बारिश भी अपने चरम पर थी. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

मैंने भाभी के दोनों पैरों को अपने कंधों पर रखा और तेज धक्के लगाने लगा.

भाभी भी मजे में आवाजें निकाल रही थीं- आह चोदो … और तेज चोदो मुझे … सलमान, बहुत मजा आ रहा है.
उसकी चूत से पानी निकलने लगा.

मुझे एहसास हुआ कि चूत वीर्य से भरी होने के कारण लंड को अन्दर-बाहर करने में ज्यादा मजा नहीं आ रहा था. जब तक लंड को चूत की रगड़ न मिले, चोदने में मजा नहीं आता.

मैंने लंड को चूत से निकाला और चादर का एक सिरा पकड़ कर उंगली की मदद से भाभी की चूत में डाल दिया और चूत का पानी पोंछने लगा.

अब भाभी की चूत पूरी तरह से सूख चुकी थी.
मैं अपनी पीठ के बल लेट गया और अपनी भाभी को संकेत दिया कि वह आकर मेरे लंड की सवारी करें।

भाभी मेरा इशारा समझ गईं और अपनी चूत मेरे लंड पर रखने लगीं. मैंने भी अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और वो लंड पर उछलने लगी.

अज़रा के दोनों मम्मे हिल रहे थे तो मैं एक को मुँह में लेकर चूसने लगा और दूसरे को हाथ से दबाने लगा।
देवर का लंड भाभी की चूत में पूरा अंदर तक जा रहा था.

मुझे बहुत मजा आ रहा था. भाभी अपने स्तनों को मेरी छाती पर झुला रही थी और अपनी चूत से मेरा लंड चूस रही थी।

पूरा कमरा चुदाई की आवाजों से ‘आहहह……’ गूँज रहा था।
भाभी की आंखों से खुशी के आंसू आ रहे थे.

आज उन्हें अपने पति से अलग होने के बाद आजादी मिल गई है.
घर पर उसके पति के लंड की जगह देवर का लंड उसकी चूत में अंदर-बाहर हो रहा था.

भाभी खुशी के मारे सीधी हो गईं और अपने दोनों हाथ हवा में उठा कर अपने स्तनों को दबा रही थीं।
मैंने भी उसकी Moti Gand पकड़ ली और नीचे से उसकी चूत मारने लगा.

भाभी मस्ती में चिल्ला रही थीं- आह्ह मजा आ रहा है सलमान… और जोर से चोदो मुझे… आउच अम्मी ओह्ह आह्ह.

इसके बाद मैंने भाभी को डॉगी पोजीशन में आने को कहा.
वो तुरंत कुतिया बन गयी. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

मैंने पीछे से अपना लंड डाला और भाभी की चूत को चोदने लगा.

इसी पोजीशन में मैंने अपना वजन उनकी पीठ पर डाला और उनसे पूछा- भाभी, क्या आपको मजा आ रहा है?
भाभी- हां यार… आज तो बहुत मजा आ रहा है. अब मेरा फिर से निकलने वाला है… तुम तेजी से करो… आउच अम्मी ओह्ह्ह और तेजी से चोदो मुझे।

मैंने अपने हाथ भाभी के स्तनों पर रख दिए और उन्हें जोर-जोर से चोदता रहा।
जब भाभी झड़ने लगी तब भी मैं उसे चोदता रहा।

फिर भाभी ने मुझे रुकने के लिए कहा और वो बिस्तर पर मुँह के बल लेट गईं.
मैंने बिस्तर पर घुटनों के बल बैठ कर उसकी एक टांग अपने कंधे पर रखी और अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और तेज धक्को के साथ उसे चोदने लगा।

कुछ देर बाद मैंने कहा- भाभी, मैं झड़ने वाला हूँ।
वो बोली- परवाह मत करो मेरे राजा … आह चोदो मुझे और तेजी से चोदो.

जब मैंने यह सुना तो मैंने अपने दोनों हाथों से उसका एक पैर पकड़ लिया और उसे तेजी से चोदने लगा।
अब हम दोनों के मुँह से ओह्ह्ह आह की आवाजें आने लगीं.

फिर मैं झड़ने लगा और मेरा लंड भाभी की चूत में ही झड़ गया. झड़ने के बाद भी मैंने भाभी को कस कर पकड़ लिया और उनके ऊपर गिर कर जोर जोर से सांसें लेता हुआ लेट गया. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

कुछ देर बाद भाभी उठी और बाथरूम में चली गयी.
उसके जाने के बाद ही मुझे नींद आयी.

भाभी कब बाथरूम से वापस आईं और कब मुझसे चिपक कर लेट गईं.
मुझे कुछ भी होश नहीं था.

जब मैं उठा तो भाभी मेरे बगल में नंगी सो रही थीं.

उसके स्तनों पर मेरे दाँतों के काटने के निशान थे।
एक-दो जगह नाखूनों से खरोंचने के निशान थे, जो सूखे खून के निशान के रूप में अपनी कहानी बयां कर रहे थे।

भाभी के बाल खुले हुए थे और वो बहुत खूबसूरत लग रही थीं.

अब बाहर बारिश बंद हो गई थी।
मैं उठा और अपने कपड़े उठा कर पहन लिये.

मैं घर से बाहर गया और डॉक्टर से दवा ले ली और मेडिकल स्टोर से कंडोम और गर्भनिरोधक दवा भी ले ली.
फिर मेरे दिल ने कुछ कहा तो मैं अपनी भाभी अज़रा के लिए एक अच्छा सा ब्रा और पैंटी का सेट ले आया.

फिर हल्की बारिश होने लगी.
जब मैं घर पहुँचा तो भाभी भैया से बात कर रही थी।

आज उसके चेहरे पर एक अजीब सी ख़ुशी थी.
जब उसने मुझे देखा तो फोन काट दिया.

मैंने अपनी भाभी को बच्चा न होने की दवा और बुखार की गोली दी।
मैंने भाभी को एक पैकेट भी दे दिया. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

उन्होंने सवालिया निगाहों से पूछा कि पैकेट में क्या है?

मैंने कहा- ये रात को पहन लेना.
भाभी ब्रा और पैंटी देख कर हंस रही थी.

मैंने रात के लिए होटल से खाना बुक कर लिया था.
खाना वगैरह खाने के बाद मैं अपने कमरे में कुछ काम करने लगा.

कुछ देर बाद जब भाभी आईं तो क्या गजब लग रही थीं.
उसके स्तन लाल रेशमी ब्रा से उभरे हुए थे; नीचे टाइट पैंटी चूत पर आग बरसा रही थी.

जब मैंने देखा कि वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी में खड़ी है तो मैं खड़ा हो गया और अपने कपड़े उतार कर नंगा हो गया।
वो मुस्कुरा रही थी और मेरे लंड को खड़ा होता देख रही थी.

मैं उसके करीब आया और उसके बदन को चूमने लगा.
उसकी बगलों से आ रहा पसीना मुझे पागल कर रहा था।

मैंने उसकी ब्रा खोल दी और दूध चूसने लगा.
वो बस आह आह कर रही थी.

फिर मैं नीचे बैठ गया और सामने खड़ी भाभी की पैंटी की इलास्टिक में अपनी उंगलियां फंसा दीं और पैंटी उतार दी.
सामने भाभी की बिना बाल वाली चिकनी चूत थी.

मैं अज़रा की चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा और उसकी चूत के क्लिटोरिस को अपने होंठों से चूसने लगा.
जब मैंने भाभी की चूत के सिरे को अपने होंठों से पकड़ कर खींचा, तो वो सिहर उठी और झट से मेरे सिर को अपने पैरों से दबा लिया. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

भाभी- आउच.. अम्मा मर गई.. आह.. अब और बर्दाश्त नहीं होता.. आह.. जल्दी से चोदो मुझे.. चोदो मुझे!
मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और उसे चोदने लगा.

पूरे कमरे में पच पच की आवाज आ रही थी.

मैंने भाभी के दोनों स्तनों को चूस-चूस कर लाल कर दिया।
जोरदार Chut Chudai करने लगा.

एक हाथ की उंगली गीली करके उसकी गांड में डाल दी और उसकी गांड भी चोदने लगा.
उसकी आंखों से आंसू निकल रहे थे.

मैं: भाभी, मुझे आज तुम्हारी गांड भी मारनी है।
भाभी- नहीं यार… पहले मेरी चूत की प्यास बुझाओ… मुझे चोदो और ज़ोर से चोदो मुझे… आउच… अम्मी ओह्ह… मेरा रस निकलने वाला है।

मैंने भाभी के दोनों मम्मे पकड़ लिए और पूरी ताकत से उन्हें चोदने लगा.
भाभी के पैर कांप रहे थे.

मैंने उसे गोद में उठा लिया और जोर जोर से चोदने लगा.
पूरे कमरे में आह आह की आवाजें आ रही थीं.

फिर मैंने भाभी को अपनी गोद से उतार दिया और अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया और उसे चोदने लगा.
भाभी के मुँह से गूं गूं की आवाज आने लगी.

मैंने अपना लंड मुँह से निकाला और हॉट भाभी को सोफे पर लिटा कर उनकी चूत में लंड डाल दिया और उन्हें चोदने लगा.

हम दोनों पसीने से भीग गये थे. भाभी को 69 पोजीशन में बिठाया और कुछ देर तक चूत का रस चूसा, लंड उसके मुँह में डाला, फिर से लंड उसकी चूत में डाला और जोर-जोर से उसे चोदने लगा। (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

भाभी फिर से कामुक हो गई थीं और उनके मुँह से फिर से ‘आह… चोदो…’ की आवाज आने लगी थी।

मैं झड़ने वाला था तो मैंने भाभी की कमर पकड़ ली और उसे तेजी से चोदने लगा.
और कुछ धक्कों के बाद मैंने अपने लंड का सारा माल भाभी की चूत में छोड़ दिया और उन्हें कस कर पकड़ लिया और उनके ऊपर लेट गया.

भाभी की चूत से पानी की धार निकल रही थी जिसे मैं अपनी जाँघों से बहता हुआ महसूस कर सकता था।

मैंने भाभी को गोद में उठाया और बिस्तर पर आकर लेट गया.
हम दोनों सो गये. (हॉट भाभी XXX स्टोरी)

एक घंटे बाद उठा और फिर से चोदना शुरू कर दिया.
इस तरह मैं अज़रा को सुबह तक तीन बार अलग-अलग पोजीशन में चोदता रहा.

अब हॉट भाभी मेरे लंड का मजा लेने लगीं.

मेरे भाई के आने से एक दिन पहले अज़रा भाभी ने बिना कंडोम के चुदाई की थी और मेरा वीर्य अपनी बच्चेदानी में ले लिया था.

अगले दिन भाई ने भी अपने लंड का रस उनकी चूत में छोड़ दिया, जिसे भाभी ने तुरंत साफ कर दिया.
अब शायद उसके पेट में मेरा बच्चा पल रहा है.

भविष्य में मैं अविवाहित पिता बनूंगा.
आपको मेरी हॉट भाभी XXX स्टोरी कैसी लगी, कृपया मुझे मेल लिखकर बताएं.

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “wildfantasystory.com” की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Escorts in Delhi

This will close in 0 seconds