पड़ोस में साउंड सिस्टम रिपेयर करने गया और वहां दो बहनों को चोदा

पड़ोस में साउंड सिस्टम रिपेयर करने गया और वहां दो बहनों को चोदा

दोस्तों आज में जो कहानी सुनाने जा रही हु उसका नाम हे “पड़ोस में साउंड सिस्टम रिपेयर करने गया और वहां दो बहनों को चोदा” मुझे यकीन की आपको ये कहानी पसंद आएगी|

दोनों बहनें चंडीगढ़ से हैं। बड़ी का नाम पूनम है और वह थोड़ी मोटी और स्मार्ट भी है

दोनों हमेशा जींस पहनती हैं और जब वे चलती हैं तो उनके चूतड़ो का आकार साफ दिखाई देता है।

अगर कोई इन्हें देख ले तो बिना मुठ मारे नहीं रह पाएगा. मैं आपको उनके फिगर के बारे में बताना भूल गया

पूनम आशिका से बड़ी है और उसका फिगर 34-30-38 और आशिका का 32-28-36 होगा।

ईश्वर ने दोनों को बड़ी फुरसत से बनाया होगा। अब मैं अपनी कहानी पर आता हूँ।

मैं एक इलेक्ट्रॉनिक दुकान में सेल्समैन हूं और मेरा घर उसके घर के ठीक सामने है

और मेरा इनके घर काफ़ी अच्छा आना-जाना था।

फिर एक दिन उन दोनों की मां मेरे पास आई और बोली कि मैं दो दिन के लिए जयपुर जा रही हूं

और मेरा म्यूजिक सिस्टम खराब हो गया है तो घर जाकर उसे देख लो

मेरी बच्चियां घर पर हैं, वह बताएगी। यह कहकर वह चली गई। फिर शाम को मैं उसके घर चला गया।

वहां पूनम और आशिका दोनों पढ़ रही थी, वो दोनों अपनी बुक टेबल पर रख कर खड़ी होकर पढ़ रही थी

जैसा कि मैंने आपको बताया कि दोनों हमेशा टाइट जींस पहनती हैं

इसलिए खड़े होने की वजह से दोनों की गांड काफी बड़ी दिखती है.

मैं उसकी गांड को देख ही रहा था कि अचानक उसका भाई आया और अपनी बहनों से कहा कि वह कुछ देर बाद आएगा और चला गया।

फिर मैंने पूछा कि म्यूजिक सिस्टम कहां है, तो पूनम उठी और मुझे अपने बेडरूम में ले गई

जब तक मैं म्यूजिक सिस्टम ठीक कर रहा था, पूनम वहीं खड़ी थी।

उस समय मेरा ध्यान म्यूजिक सिस्टम को ठीक करने पर कम और उसके चूतड़ को देखने पर ज्यादा था

और चूतड़ को देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया था, जो 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा था

और एकदम लंबा तन गया और पजामे के ऊपरे से दिखने लगा।

पूनम ने मेरे खड़े लंड को देखा और वो हंसने लगी.

मैंने पूछा हंस क्यों रहे हो तो कहने लगी कि तुम्हारे पायजामे से कुछ निकल रहा है।

मैंने कहा तुम्हारी वजह से निकल रहा है तो वो कहने लगी कि ये मैंने क्या किया?

इसमें मेरा क्या दोष? मैंने कहा यह तुम्हारी वजह से है।

तुम ऐसे हो कि किसी का भी लंड सीधा खड़ा हो सकता है। फिर उसने कहा कि क्या तुम सच कह रहे हो?

तो मैंने हाँ कह दिया और कहा कि मैं तुम्हें देखकर दिन में 5-6 बार हस्तमैथुन करता हूँ

लेकिन इसके बाद भी मेरी लंड की प्यास नहीं बुझती. तभी वह बोली, आज अपनी प्यास बुझाओ और मेरी भी प्यास बुझाओ।

यह सुनकर मैं उसे किस करने लगा, वो गर्म होने लगी और मैं उसके टॉप के ऊपर से उसके बूब्स दबाने लगा

वो और गर्म हो गई और अपना हाथ मेरे पायजामे के अंदर डाला और मेरे लंड को सहलाने लगी.

मैंने भी अपना हाथ उसके टॉप में डाल दिया और उसकी चूचियों को दबाने लगा

अब मैंने उसका टॉप उतार दिया था और उसके बूब्स को चूस रहा था.

फिर अचानक आशिका ने आकर हमें सेक्स करते देख लिया तभी पूनम उसे साइड में ले गई

और समझाने लगी, लेकिन वह नहीं मानी। फिर मैंने जाकर उसे समझाया और कहा कि तुम क्यों काम खराब कर रही हो

तुम भी सेक्स कर लो। ये सुनकर वो भी तैयार हो कर अंदर कमरे में आ गई

और अब हम सब अपने अपने कपड़े उतारने लगे। जब दोनों अपनी जींस उतार रही थी

तो मैंने उनसे पूछा कि तुम पहले कई बार चुदवा चुकी हो क्या? तब उसने बताया कि वह पहली बार चुदाई कर रही है।

तो मैंने पूछा कि गांड इतनी बड़ी कैसे हो गई? तो वो कहने लगी कि ये तो हमने छेद में ऊँगली करके किया है

और जींस उतारने के बाद उसकी गांड और भी बड़ी लग रही थी.

अब हम पूरी तरह से नंगे हो चुके थे और वो दोनों मेरे लंड को अपने मुँह में ले रही थी

और इतना मज़ा आ रहा था कि पूछो मत. फिर 10 मिनट मुंह में देने के बाद में झड़ गया

और मैंने सारा वीर्य उसके मुंह में ही छोड़ दिया, उसने सारा का सारा वीर्य पी लिया

और उसके बाद पूनम खड़ी हो गई और कहने लगी कि पहले मुझे चोदो।

मेरा लंड झड़ गया था तो मैंने आशिका के मुँह में लंड डाला और उसने मेरे लंड को फिर से खड़ा कर दिया

और फिर मैं भी पूनम को चोदने लगा, उसे इतना दर्द नहीं हुआ

और मेरा लंड भी आसानी से अंदर चला गया. क्योंकि दोनों की चूत पहले ही काफी खुल चुकी थी.

फिर 15 मिनट तक चूत मारने के बाद पूनम की गांड में लंड डालने लगा

लेकिन लंड गांड में थोड़ा टाईट जा रहा था, तभी आशिका ने झट से उसे चाटा और गीला कर दिया.

फिर लंड भीग कर आसानी से अंदर जा रहा था तभी पूनम के मुँह से आवाज़ आने लगी आआआआआआआआआआआआआआआ

उसकी आवाजें बंद करने के लिए आशिका पूनम के सामने जा कर अपनी चूत को चटवाने लगी.

फिर थोड़ी देर के बाद में फिर झड़ गया और अपना सारा वीर्य उसकी गांड में डाल दिया

और अब पूनम मेरे लंड को फिर से खड़ा करने के लिए मेरे लंड को अपने मुँह में लेने लगी.

फिर मैंने आशिका को बेड पर लेटने को कहा और उसकी चुदाई करने लगा

और अपने लंड को अंदर बाहर करने लगा. जैसे ही मेरा लंड बाहर आता पूनम उसे चाट लेती.

फिर 20 मिनट की चूत मारने के बाद के बाद में झड़ गया और मैंने अपना वीर्य आशिका के मुँह में छोड़ दिया

दोनों बहनें सेक्स के दौरान 3-3 बार झड़ चुकी थी और ज़्यादा चुदना चाहती थी।

फिर हम सब नंगे ही बिस्तर पर लेट गए। में बीच, में लेटा था और अपने दोनों हाथों को उनकी चूत में डाल रहा था.

फिर थोड़ी देर के बाद हमने फिर चुदाई चालू कर दी और हमने बहुत इन्जॉय किया।

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “wildfantasystory.com” की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Escorts in Delhi

This will close in 0 seconds